खबर लहरिया जिला लखनऊ: समाज की बंदिशों को तोड़ टायक्वोंडो सीख रही लड़कियां

लखनऊ: समाज की बंदिशों को तोड़ टायक्वोंडो सीख रही लड़कियां

सेल्फ डिफेंस बनने के लिए निःशुल्क ट्रेनिंग लेती लड़कियां

आज के जमाने में जो दौर चल रहा है इसमें लड़कियों के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है सेल्फ डिफेंस बनना। क्योंकि चाहे जिस क्षेत्र में लड़कियां आगे आ जाएं आगे बढ़ गए हैं। फिर भी कुछ हमारे समाज के ऐसे लोग हैं जो लड़कियों को लड़कों से कम आते हैं। तो आज चलिए आपको नवाबों के शहर में लखनऊ में ले चलते हैं जहां पर एक ऐसी संस्था है। जो लड़कियों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए ट्रेनिंग देती है वह भी बिल्कुल निशुल्क कोई फीस नहीं लेती है। इसमें लड़कियों को टायक्वोंडो खेल से लेकर जाति पाति भेदभाव वह अन्य चीजों में निपुण बनाने का काम करती है।

सेल्फ डिफेंस बनने की ट्रेनिंग ले रही लड़कियों का कहना है की हम लोग ताइक्वांडो सीख रहे हैं इससे हम अपनी रक्षा कर सकते हैं क्योंकि हर समय मम्मी या पापा साथ में नहीं जा सकते हैं। तो हमें अपनी रक्षा के लिए टायक्वोंडो सीखना बहुत जरूरी है और हम लोग सीख भी रहे हैं। अभी हम लोगों को 3:00 या 4 महीने हुए हैं लेकिन काफी कुछ सीख गए हैं। किक वगैरा लड़कियों का कहना है कि आज के युग में हर हर तरफ कुछ ना कुछ क्राइम हो रहे हैं लड़कियों को लेकर अगर लड़कियां आत्मनिर्भर बन जाएंगी तो वह अपनी सुरक्षा स्वयं कर सकती हैं। हम लोग हैं जो संस्था है इसका नाम है विज्ञान फाउंडेशन इसके थ्रो 9:00 से 19 साल की लड़कियों को सिखाया जा रहा है इसमें सारे यूनिफार्म नोट्स सब फ्री में मिलते हैं। बस आपके पास इसको सीखने के लिए टाइम होना चाहिए और हमें बातचीत करने का तरीका भी सिखाया जाता है तुम लोगों को पसंद भी है टायक्वोंडो सीखना और हम लोग से सीख भी रहे हैं।

ये भी देखें :

बाँदा-रौशनी की किरण बनेगी ड्राप आउट लड़कियां

 

(हैलो दोस्तों! हमारे  Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)