सपा उम्मीदवार मित्रसेन यादव

mitrasenफैजा़बाद की बीकापुर विधानसभा से मौजूदा विधायक मित्रसेन यादव पांच बार विधायक रह चुके हैं। हालांकि पहले यह बहुजन समाज पार्टी में भी रहे हैं। 1964 में इन पर दो सगे भाइयों की हत्या का आरोप लगा। जिसमें उन्हें फैज़ाबाद जिले की अदालत में फांसी की सजा सुनाई गई। इलाहाबाद कोर्ट में अपील की। सज़ा नहीं बदली। राज्यपाल ने अपने विशेषाधिकार के आधार पर इन्हें छोड़ दिया।
सवाल-फैज़बाद मे आप प्रचार के दौरान क्या उपल्ब्धियां गिनवाएंगे क्या वादे करेंगे?
जवाब-कौशल योजना की चर्चा करेंगे। जिसमें बेरोजगारों को कुछ हुनर सिखाने की बात कही गई है। मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेज खुलवाने का वादा करेंगे।
सवाल- मुजफ्फरनगर दंगों को लेकर सरकार पर बहुत आरोप लगे हैं, प्रचार के दौरान लोग सफाई मांगेगे आपसे तो क्या कहेंगे?
जवाब- दंगे कभी सरकार नहीं कराती। हमेशा दूसरी पार्टी के लोग शांति भंग करके सरकार के खिलाफ माहौल बनाते हैं। हमने लोगों को मुआवज़ा दिया। राशन भेजा।
सवाल-क्या ऐसा लगता है कि इस बार मोदी की हवा है?
जवाब-मोदी की कोई हवा नहीं है जनता जानती तक नहीं की मोदी कौन है। गुजरात में मुख्यमंत्री रहते हुए हिंसा करवाई। वो प्रधानमंत्री बनने के लायक नहीं। उसके राज्य में धर्म आधारित राजनीति होती है।
सवाल-हत्या और तस्करी के आरोप आप पर हैं। आपकी छवि बाहुबली की है। क्या इसका चुनाव पर असर नहीं पड़ता?
जवाब- यह छवि विरोधियों ने बनाई है। मुकदमें तो कई शरीफ लोगों पर भी चलते हैं।