खबर लहरिया Blog उत्तर प्रदेश : सीएम योगी आदित्यनाथ के पिता का निधन, एम्स में ली आखिरी सांस

उत्तर प्रदेश : सीएम योगी आदित्यनाथ के पिता का निधन, एम्स में ली आखिरी सांस

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट का आज निधन हो गया। 89 साल के आनंद सिंह बिष्ट का दिल्ली के एम्स में इलाज चल रहा था और उनकी हालत गंभीर थी। वह पिछले कई दिनों से वेंटिलेटर पर थे और उन्होंने आज यानी सोमवार सुबह 10 बजकर 40 मिनट पर अंतिम सांस ली।

योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट को किडनी और लिवर की समस्या थी। तबीयत खराब होने पर उन्हें 13 मार्च को एम्स में भर्ती कराया गया था। यहां गेस्ट्रो विभाग के डॉक्टर विनीत आहूजा की टीम उनका इलाज कर रही थी।

जिस समय जब इसकी जानकारी सीएम योगी को मिली तो उस दौरान वो टीम 11 की बैठक ले रहे थे। इस दौरान उन्हें पिता के निधन की जानकारी मिली। इस घटना की जानकारी मिलने के बाद सीएम की आंखें कुछ देर के लिए नम हो गईं। इसके बावजूद अधिकारियों के साथ सीएम की होनी वाली बैठक जारी रही। इतना ही नहीं, मीटिंग के दौरान वह अधिकारियों को लगातार कोरोना वायरस समेत अन्‍य मुद्दों पर दिशा-निर्देश देते रहे।

योगी आदित्यनाथ अपने पिता आनंद सिंह बिष्ट के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो पाएंगे। पिता के निधन पर सीएम योगी ने एक खत लिखा। उन्होंने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के खिलाफ जारी लड़ाई के कारण मैं अंतिम संस्कार के कार्यक्रम में शामिल नहीं हो पाऊंगा। लॉकडाउन के बाद दर्शनार्थ जाऊंगा।

अपने पिता के नाम लिखी चिट्ठी में सीएम योगी आदित्यनाथ ने लिखते हैं कि ‘पिताजी के कैलाशवाली होने पर मुझे भारी दुख और शोक है। वे मेरे पूर्वाश्रम के जन्मदाता हैं। जीवन में ईमानदारी, कठोर परिश्रम और निस्वार्थ भाव से लोक मंगल के लिए समर्पित भाव के साथ कार्य करने का संस्कार बचपन में उन्होंने मुझे दिया। अंतिम क्षणों में उनके दर्शन की हार्दिक इच्छा थी।’

योगी आदित्यनाथ के पिता वन विभाग में फॉरेस्ट रेंजर के पद पर रहे हैं। साल 1991 में वे नौकरी से रिटायर हुए थे। रिटायर्मेंट के बाद वे गांव मे रह रहे थे। बता दें, उनके बेटे और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ काफी पहले अपना परिवार छोड़ चुके हैं।

योगी आदित्यनाथ बचपन में ही अपना परिवार छोड़कर गोरखपुर महंत अवेद्यनाथ के पास चले आए थे। बाद में योगी आदित्यनाथ ने महंत के रूप में अवेद्यनाथ की जगह ली। उत्तराखंड में चुनाव के समय योगी कई बार वहां चुनाव प्रचार के सिलसिले में जाते रहे हैं। इस दौरान उनके परिवार वाले योगी से मिलते हैं।

मुख्यमंत्री बनने के बाद सीएम योगी एक कार्यक्रम के सिलसिले में बिजनौर गए थे। आयोजकों ने उनके पिता आनंद सिंह बिष्ट को कार्यक्रम का आमंत्रण भेजा था। आनंद सिंह अपने पोते अविनाश मोहन बिष्ट के साथ कार्यक्रम में आए थे। इस दौरान सीएम आदित्यनाथ ने पिता का शाल ओढ़ाकर स्वागत किया। दोनों भावुक हो गए थे।

सीएम योगी आदित्यनाथ के पिता के निधन के जानकारी मिलने के बाद विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं ने शोक संवेदना प्रकट की है। मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम कमलनाथ, केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल और बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने उनके निधन पर संवेदनाएं प्रकट की है।

 

रामायण सीरियल में भगवान ‘राम’ का किरदार निभाने वाले अभिनेता अरुण गोविल ने सीएम योगी आदित्यनाथ के पिता के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, ‘उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिताजी श्री आनंद सिंह बिष्ट के दुःखद निधन पर मेरी गहरी संवेदनाएं। ईश्वर से प्रार्थना है कि वे दिवंगत आत्मा को शान्ति प्रदान करें एवं शोक संतप्त परिजनों को यह आघात सहने की शक्ति दें।