यूथ ओलिंपिक में स्वर्ण पदक जीतने वाले पहले भारतीय बने जेरेमी लालरिनुंगा

साभार: ट्विटर

भारतीय वेटलिफ्टर(भार उठाना) जेरेमी लालरिनुंगा ने इतिहास रच दिया है। ब्यूनस आयर्स में यूथ ओलंपिक के दौरान देर रात स्वर्ण पदक जीता।

यह ओलंपिक के इतिहास में भारत का पहला स्वर्ण पदक है। 15 साल के लालरिनुंगा ने 62 किलोग्राम भार वर्ग में यह उपलब्धि हासिल की। इसी के साथ खेल में भारत के चार पदक हो गए, जिसमें तीन रजत शामिल है।

आइजोल के इस युवा सितारे ने कुल 274 किलो (124 किलोग्राम +150 किलोग्राम) वजन उठाया। इससे पहले वह वर्ल्ड यूथ सिल्वर-मेडलिस्ट (विश्व युवा चांदी पदक प्राप्त) भी रहे हैं।

जेरेमी ने क्लीन ऐंड जर्क में अपने आखिरी प्रयास में 150 किलोग्राम वजन उठाया। इससे पहले स्नैच में उन्होंने 124 किलोग्राम का भार उठाया था। इस मुकाबले में तुर्की के टॉपटस कानेर (263 किलोग्राम) और कोलंबिया के विलर एस्टिवन ने (260 किलोग्राम) वजन उठाया था।

इससे पहले, लालरिनुंगा ने यूथ एशियन चैंपियनशिप्स में ब्रॉन्ज(कांस्य) मेडल जीता था। इस बीच उन्होंने दो नेशनल रिकॉर्ड भी बनाए थे।