खबर लहरिया Blog Bihar Lok Sabha Seats 2024: बिहार में सबसे अधिक 17 सीटों से लड़ेगी बीजेपी, जानें अन्य पार्टियां कितनी सीटों से लड़ेंगी चुनाव

Bihar Lok Sabha Seats 2024: बिहार में सबसे अधिक 17 सीटों से लड़ेगी बीजेपी, जानें अन्य पार्टियां कितनी सीटों से लड़ेंगी चुनाव

लोकसभा चुनाव को लेकर बिहार में बीजेपी (BJP) की अगुवाई वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) ने बताया कि बिहार की कुल 40 सीटों में से बीजेपी 17 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। वहीं नीतीश कुमार की जनता दल (यूनाइटेड) 16 सीटों पर से अपने उम्मीदवारों को खड़ा करेगी।

bihar-lok-sabha-seats-2024-bjp-will-contest-from-17-seats-know-about-other-parties

लोकसभा चुनाव 2024:  एनडीए (National Democratic Alliance) ने सोमवार,18 मार्च की शाम को बिहार में अपने सीट-शेयर के फॉर्मूले की घोषणा औपचारिक तौर पर कर दी है। घोषणा करने के दौरान एनडीए ने भाजपा को ‘बड़ा भाई’ बताया।

लोकसभा चुनाव को लेकर बिहार में बीजेपी (BJP) की अगुवाई वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) ने बताया कि बिहार की कुल 40 सीटों में से बीजेपी 17 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। वहीं नीतीश कुमार की जनता दल (यूनाइटेड) 16 सीटों पर से अपने उम्मीदवारों को खड़ा करेगी।

इसके अलावा चिराग पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी को 5 सीटें मिली हैं। जीतन राम मांझी (Jitan Ram Manjhi) की ‘हिंदुस्तान अवाम मोर्चा’ पार्टी को 1 सीट दी गई है। वहीं, उपेंद्र कुशवाहा (Upendra Kushwaha) की राष्ट्रीय लोक मोर्चा पार्टी सिर्फ एक सीट से अपने प्रत्याशी को उतारेगी। जानकारी के अनुसार, पिछले चुनाव में एनडीए ने बिहार में 39 सीटें जीती थीं।

ये भी पढ़ें – Lok Sabha Election 2024: 85 साल से अधिक व 40 प्रतिशत से ज़्यादा विकलांगता वाले लोग “घर बैठे दे सकते हैं वोट”

भाजपा व चिराग पासवान के बीच चुनाव से पहले हुई डील

एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार, भाजपा द्वारा बिहार की सभी सीटों पर निशाना साधने के लिए चिराग पासवान (Chirag Paswan) के साथ एक बड़ी डील की गई थी। इस दौरान बीजेपी ने पासवान के नेतृत्व वाली लोक जनशक्ति पार्टी रामविलास (LJP-R) को हाजीपुर समेत 5 सीटें देने की बात कही थी। यह भी बताया गया कि इसके लिए चिराग पासवान के चाचा और मौजूदा केंद्रीय मंत्री पशुपति पारस को भी दरकिनार कर दिया गया।

सीट शेयरिंग की घोषणा के दौरान चिराग पासवान के चाचा पशुपति पारस की पार्टी को एक भी सीट नहीं दी गई। यहां तक की प्रेस कॉन्फ्रेंस में भी उनकी पार्टी का कोई भी नेता नहीं था।

ये भी पढ़ें – Lok Sabha Election 2024: बीजेपी ने दूसरी सूची की ज़ारी, चित्रकूट-बांदा से आरके सिंह पटेल पर फिर जताया भरोसा

बिहार में इन जगहों से चुनाव लड़ेंगी पार्टियां

– बिहार में इन 17 सीटों पर बीजेपी लड़ेगी चुनाव

बीजेपी औरंगाबाद, मधुबनी, अरिरया, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, महाराजगंज, सारण, उजियारपुर, बेगूसराय, नवादा, पटना साहिब, पाटलिपुत्र, आरा, बक्सर, पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण और सासाराम से चुनाव लड़ेगी।

– जेडीयू इन 16 सीटों से लड़ेगी चुनाव

नीतीश कुमार की जेडीयू पार्टी वाल्मिकी नगर, सीतामढ़ी, झंझारपुर, सुपौल, किशनगंज, कटिहार, पूर्णिया, मधेपुरा, गोपालगंज, सिवान, भागलपुर, बांका, मुंगेर, नालंदा, जहानाबाद और शिवहर से अपने उम्मेदवारों को उतारेगी।

– चिराग पासवान की पार्टी इन जगहों से लड़ेगी चुनाव

चिराग पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी वैशाली, हाजीपुर, समस्तीपुर, खगड़िया और जमुई से इस बार चुनाव लड़ेगी।

– ‘हम पार्टी’ बिहार में इस जगह से लड़ेगी चुनाव

जीतन राम मांझी की पार्टी हिंदुस्तान आवाम मोर्चा (HAM) गया से अपना उम्मीवारों को चुनाव में उतारेगी।

– राष्ट्रीय लोक मोर्चा पार्टी इस जगह से लड़ेगी चुनाव

उपेंद्र कुशवाहा की राष्ट्रीय लोक मोर्चा बिहार के काराकाट से अपने प्रत्याशी को खड़ा करेगी।

ये भी पढ़ें – Lok Sabha Election 2024: 19 अप्रैल से 1 जून तक होंगे चुनाव, 4 राज्यों में विधानसभा चुनाव होने की भी घोषणा

बिहार में जेडीयू व बीजेपी के बीच रही चुनावी लड़ाई का ब्यौरा

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, इस बार बीजेपी जनता दल यूनाइटेड से एक अधिक सीट पर लड़ रही है। उनके विधायकों व मंत्री की संख्या भी ज़्यादा है। साल 2019 में बीजेपी और जेडीयू ने बराबर सीटों से चुनाव लड़ा था। इसके साथ ही साल 2014 के चुनाव में दोनों पार्टियां एक-दूसरे के विरुद्ध थी। उस समय कोई गठबंधन नहीं था। वहीं 2009 के चुनाव में जनता दल यूनाइटेड ने 25 सीटों पर अपने प्रत्याशियों को उतारा था जबकि बीजेपी ने 15 सीटों से अपने उम्मीदवार खड़े किये थे।

बीजेपी इस बार एनडीए के ज़रिये बड़ा भाई बन अपना आधिपत्य पूरी तरह से जमाने की तैयारी में है जो सीट शेयर के फॉर्मूले को देखकर समझा जा सकता है। फार्मूला कितना सफल होता है, बड़े भाई की भूमिका में रह छोटे भाई उनका कितना सहयोग करते हैं, यह तो जनता व उनके मत बता ही देंगे।

यदि आप हमको सपोर्ट करना चाहते है तो हमारी ग्रामीण नारीवादी स्वतंत्र पत्रकारिता का समर्थन करें और हमारे प्रोडक्ट KL हटके का सब्सक्रिप्शन लें

If you want to support our rural fearless feminist Journalism, subscribe to our premium product KL Hatke

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *