खबर लहरिया Blog लखनऊ : अचानक गिरी चार मंज़िला इमारत, अभी-भी कई लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका

लखनऊ : अचानक गिरी चार मंज़िला इमारत, अभी-भी कई लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि इमारत में कोई रिपेयर का काम चल रहा था। ड्रिलिंग की आवाज आ रही थी। उसी समय बिल्डिंग गिरी।

                                                                                                                       फोटो साभार – सोशल मीडिया

यूपी की राजधानी लखनऊ में मंगलवार, 24 जनवरी 2023 को चार मंजिला रिहायशी इमारत गिरने से कई लोगों के हताहत होने की खबर है। हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, 19 घंटे से जारी रेस्क्यू ऑपरेशन में अब तक 15 लोगों को निकालकर अस्पताल में भर्ती किया गया है। मलबे में दबकर सास-बहु की मौत होने की भी खबर सामने आई है।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने इमारत गिरने की दुर्घटना का संज्ञान लेते हुए जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ ही एसडीआरएफ व एनडीआरएफ की टीमों को मौके पर जाकर राहत कार्य संचालित करने के निर्देश दिए हैं।

इसके साथ ही सभी अस्पतालों को अलर्ट पर रहने के भी आदेश दिए गए।

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने भी मामले को लेकर ट्वीट किया। उन्होंने लिखा, “लखनऊ में एक भवन गिरने से हुआ हादसा बेहद दुखद है। जिन्होंने अपनों को खोया है, उनके प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं। घटना के संदर्भ में ज़िलाधिकारी ने मुझे स्थिति की जानकारी दी है। राज्य सरकार की देखरेख में प्रशासन हरसंभव मदद में जुटा है।सभी घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूँ।”

बता दें, जो इमारत गिरी है, पहले उसे अलाया अपर्टमेंट के नाम से जाना जाता था। अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, इस अपार्टमेंट को याजदान बिल्डर ने बनाया था। यहां संकरे रास्ते होने के कारण एम्बुलेंस व फायर की गाड़ियों को जाने में भी दिक्कत आने की खबर है। जानकारी के अनुसार, गिरी इमारत लगभग 15 साल पुरानी है।”

रिपोर्ट्स के अनुसार, प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि इमारत में कोई रिपेयर का काम चल रहा था। ड्रिलिंग की आवाज आ रही थी। उसी समय बिल्डिंग गिरी।

ये भी पढ़ें- स्पेनिश की 115 वर्षीय महिला बनी दुनिया में सबसे पुरानी व लंबे समय तक जीवित रहने वाली महिला

 

‘यदि आप हमको सपोर्ट करना चाहते है तो हमारी ग्रामीण नारीवादी स्वतंत्र पत्रकारिता का समर्थन करें और हमारे प्रोडक्ट KL हटके का सब्सक्रिप्शन लें’

If you want to support  our rural fearless feminist Journalism, subscribe to our  premium product KL Hatke ‘ 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *