बिहार में बालिका विद्यालय में छात्राओं से मारपीट के मामले में 9 आरोपी गिरफ्तार

सुपौल के कस्तूरबा आवासीय बालिका विद्यालय में एक दिन पहले कई मनचलों के घुसने का मामला सामने आया। इन्होंने छात्राओं और शिक्षकों से मारपीट की। इस घटना में 34 छात्राओं को गंभीर चोट आई और उन्हें अनुमंडलीय अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

जानकारी के अनुसार, कुछ छात्राएं विद्यालय परिसर में खेल रही थीं। इस दौरान कुछ मनचले उन पर अभद्र टिप्पणी करने लगे और फब्तियां कसने लगे। छात्राओं ने इसकी शिकायत अपने अध्यापकों से की। इसके बाद अध्यापक और अन्य लोग मनचलों को समझाने गए, लेकिन वे उनसे ही उलझ गए।

थोड़ी देर बाद मनचले अपने अभिभावकों और अन्य लोगों के साथ भीड़ की शक्ल में वापस लौट और स्कूल पर हमला कर दिया। इस दौरान शिक्षकों और छात्राओं से मारपीट की गई। जिसमें 34 छात्राओं को गंभीर चोट लगी। बाद में एंबुलेंस से छात्राओं को अस्पताल पहुंचाया गया। जहां उनका इलाज चल रहा है।

घटना की सूचना पुलिस को दे दी गई इस घटना को लेकर तेजस्वी यादव ने राज्य सरकार पर हमला बोला है।

उन्होंने कहा कि 34 छात्राओं को बुरे तरीके से मारा-पीटा गया है। बेख़ौफ गुंडों की मार से घायल सभी छात्राओं को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सरकार नरम है, अपराध चरम पर है।

वहीं, इस मामले में पुलिस ने 9 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। अधिकतर आरोपी नाबालिग यानी 18 साल से कम उम्र के हैं। इन आरोपियों से पूछताछ की जा रही है।