खबर लहरिया अम्बेडकरनगर आत्मनिर्भर बुज़ुर्ग महिला झाड़ू बनाकर चलाती हैं घर

आत्मनिर्भर बुज़ुर्ग महिला झाड़ू बनाकर चलाती हैं घर

अंबेडकर नगर : आत्मनिर्भरता उम्र नहीं देखती। जिले के यादव नगर चौराहे, बिकवा जीतपुर गांव की बुज़ुर्ग महिला सुमित्रा देवी खजूर के सूखे पत्तों से झाड़ू बनाने का काम करती हैं। वह यह काम सालों से करती आ रहीं हैं। उनका काम उनके परिवार का भरण-पोषण करता है।

ये भी देखें – ‘संघर्ष का रूप बदला लेकिन संघर्ष नहीं’- नाज़नी रिज़वी जांबाज़ पत्रकार

सुमित्रा को उम्र बढ़ने के साथ काम करने में परेशानी आती है। 1 झाड़ू 15 रूपये तक बिकता है तो कभी दस। 12 लोगों के परिवार को चलाने में सुमित्रा का सबसे बड़ा हाथ है।

ये भी देखें –

ये महिलाएं नहीं हैं किसी से कम ! – “मैं भी पत्रकार सीरीज़”

यदि आप हमको सपोर्ट करना चाहते है तो हमारी ग्रामीण नारीवादी स्वतंत्र पत्रकारिता का समर्थन करें और हमारे प्रोडक्ट KL हटके का सब्सक्रिप्शन लें’

If you want to support our rural fearless feminist Journalism, subscribe to our premium product KL Hatke