जल बनाउ निर्मल

Hand_pumpजिला सीतामढी, प्रखण्ड, रीगा परिषर में पांच दिवसीय शिविर लागल रहई। जेइमें पीये वाला पानी के जांच के लेल जानकारी देल गेलई। इ कार्यक्रम 10 सितम्बर 2013 से 14 सितम्बर 2013 तक रहई।
शिविर में आयल शनि कुमार सिंह अउर सुरेन्द्र कुमार कहलथिन कि पिये वाला पानी में भी केतना तरह के किटाणु पायल जाई छई। जे स्वास्थ्य के लेल हानिकारक (विकलांग ,छोटापन ,डायरिया ,आदीं) होई छई। एई के लेल पीये वाला पानी एक लीटर ले के पी.एच.ई.डी. कार्यालय में जा के जांच करवाउ। एई के जानकारी देल जाई छई। इ शिविर जिला में तीन जगह (रीगा ,डुमरा ,प्रखण्ड में अउर पी.एच ई.डी कार्यालय) लागल रहई।
पी.एच.ई.डी. के प्रखण्ड कोडीनेटर श्याम कुमार कहलथिन कि जेई पानी में कम किटाणु पायल जाई छई। ओकर साफ सफाई के लेल कार्यालय से सुविघा मिलई छई। अगर अघिक किटाणु पायल जाई छई ओई के सुचि सरकार के देल जाई छई। एई पर उ विचार करथिन पी.एच.डी. के केमिस्ट सुनिल कुमार कहलथिन कि अभी लगभग बारह हजार चापाकल के पानी जांच कयल गेलई ह। सीतामढ़ी क्षेत्र में पानी में कोई खराबी न पायल गेलई।