बीएचयू कुलपति ने कहा की अगर वे हर छात्रा की बात सुनेंगे तो विश्वविद्यालय कैसे चलाएंगे?

फोटो साभार-एकता सिंह

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में सुरक्षा को लेकर प्रदर्शन कर रहे छात्रछात्राओं पर पुलिस के लाठीचार्ज के बाद विश्वविद्याल में तनाव लगातार बढ़ता जा रहा है। इस मामले में जहां विश्वविद्यालय पर लापरवाही के आरोप लग रहे हैं वहीं कुलपति के रवैये को लेकर भी सवाल खड़े हो रहे हैं।
बेटी पढ़ाओ, या बेटी से मूंह छिपाओ? बीएचयू में गूंज रही है छात्राओं की पुकार
विश्वविद्यालय के कुलपति गिरीश चंद्र त्रिपाठी ने इस मामले को बाहरी ताकतों द्वारा उकसाया हुआ बताया। साथ ही उन्होंने ये भी कहा की इस वारदात को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बनारस दौर के दौरान इसलिए रखा गया की उनके दौर में खलल मचे, और विवाद हो।
आगे उन्होंने निराशा जताते हुए कहा की वे हर छात्रा के साथ एक बॉडीगार्ड तो तैनात नहीं कर सकते हैं। और अगर वे हर छात्रा की बात पर गौर फरमाए, तो फिर वे विश्विद्यालय नहीं चला सकेंगे।
मालवीय की बगिया में ये काटें ही काटें