खबर लहरिया Blog मध्य प्रदेश: सीधी जिले में आरोपी ने आवाज बदलकर 7 आदिवासी महिलाओं का किया रेप

मध्य प्रदेश: सीधी जिले में आरोपी ने आवाज बदलकर 7 आदिवासी महिलाओं का किया रेप

मीडिया से बात करते हुए पुलिस महानिरीक्षक (रीवा रेंज) महेंद्र सिंह सिखरवार ने कहा, “आरोपी ने ‘मैजिक ऐप’ नामक एक ऐप का इस्तेमाल किया और अपनी आवाज को एक महिला की आवाज में बदलकर खुद को संजय गांधी कॉलेज का प्रोफेसर बताया। जब महिलाएँ आश्वस्त हो गईं तो वे वहाँ गईं और उनके साथ बलात्कार किया गया।”

disable dalit minor girl gangraped in uttar pradesh, firozabad

                                                                         credit – feminism in india

मध्य प्रदेश के सीधी जिले में 7 महिलाओं के रेप मामले में आदिवासी संगठन ने कल गुरुवार 30 मई को खरगोन में आरोपियों को फांसी देने की  मांग की। आरोपियों ने ‘मैजिक ऐप’ के इस्तेमाल से आवाज बदलकर महिला प्रोफेसर बनकर बात की और सुनसान जगह बुलाकर बलात्कार किया। पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

तकनीकी  दुनिया में कई एप्लिकेशन लोगों के जीवन में कामों को आसान बना रही हैं तो वहीं कुछ एप्लिकेशन अपराध को अंजाम दे रही है। 16 मई को मध्यप्रदेश के सीधी जिले में हुई रेप की घटना जोकि आवाज बदलने वाली मैजिक एप्प के जरिये हुई। आरोपी ने महिला की आवाज में 7 महिलाओं से छात्रवृत्ति देने की बात की और सुनसान जगह बुला कर उनके साथ रेप किया। जानकारी के अनुसार वे महिलाएं आदिवासी समुदाय से हैं। इस मामले के आरोप में 4 आरोपियों को मध्य प्रदेश की पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार इस मामले में खरगोन में जय आदिवासी युवा शक्ति संगठन ने गुरुवार 30 मई को दोपहर बाद राज्यपाल के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा और आरोपियों को फांसी देने की मांग की।

मीडिया से बात करते हुए पुलिस महानिरीक्षक (रीवा रेंज) महेंद्र सिंह सिखरवार ने कहा, “आरोपी ने ‘मैजिक ऐप’ नामक एक ऐप का इस्तेमाल किया और अपनी आवाज को एक महिला की आवाज में बदलकर खुद को संजय गांधी कॉलेज का प्रोफेसर बताया। जब महिलाएँ आश्वस्त हो गईं तो वे वहाँ गईं और उनके साथ बलात्कार किया गया।”

ये भी पढ़ें – बांदा: युवक पर नाबालिग लड़की को अगवा करने का आरोप

छात्रवृत्ति देने का दिया था झांसा

द प्रिंट की रिपोर्ट के अनुसार यह घटना 16 मई को तब सामने आई जब एक आदिवासी महिला ने सीधी मझौली पुलिस थाने में शिकायत की कि उसके साथ एक पुरुष ने बलात्कार किया है, पुरुष ने आवाज बदलकर महिला बनकर बात की थी जिसने खुद को संजय गांधी स्मार्टी शासकीय पीजी कॉलेज की संकाय सदस्य बताकर छात्रवृत्ति देने का दावा किया था।

आरोपी ने बलात्कार करने की बात स्वीकारी

मीडिया के अनुसार, पुलिस ने बताया कि मुख्य संदिग्ध ब्रजेश प्रजापति ने कम से कम सात महिलाओं के साथ बलात्कार करने की बात स्वीकार की है, जिनमें से पांच ने औपचारिक शिकायत दर्ज कराई है। पांच में से एक नाबालिग है और दूसरी स्कूल छोड़ चुकी है।

ये भी देखें – पड़ोसियों ने 14 साल की नाबालिग बच्ची के साथ सामूहिक बलात्कार कर किया गर्भवती, 3 आरोपी नाबालिग

इन आरोपियों की हुई गिरफ्तारी

ब्रजेश प्रजापति
लव कुश प्रजापति
राहुल प्रजापति
संदीप प्रजापति

टाइम्स ऑफ़ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार , पुलिस ने अब तक 16 फोन बरामद कर लिए हैं, लेकिन अभी तक केवल चार लोगों की शिकायतें ही प्राप्त हुई हैं।

इस तरह की एप्लीकेशन साइबर क्राइम को बढ़ावा देती है जिससे सावधान रहने की जरूरत है। फर्जी कॉल आने पर घर में बताना चाहिए। सरकार को सख्त सजा देनी चाहिए ताकि भविष्य में ऐसे अपराध न हो।

 

यदि आप हमको सपोर्ट करना चाहते है तो हमारी ग्रामीण नारीवादी स्वतंत्र पत्रकारिता का समर्थन करें और हमारे प्रोडक्ट KL हटके का सब्सक्रिप्शन लें’

If you want to support  our rural fearless feminist Journalism, subscribe to our  premium product KL Hatke

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *