बिजली से जुड़ी समस्या खतम होय का नाम नहीं लेत

Exif_JPEG_420चित्रकूट जिला मा बिजली से जुडी़ समस्या खतम होय का नाम नहीं आवत चाहे वा बिजली का खुला ट्रंस्फारमर होय या फेर बिजली के तार टूटै या खंभा गिरै के समसया होय।
रामनगर, कस्बा राजापुर मा सात साल से बिजली का खुला ट्रांस्फारमर रखा हवै। बिजली का खुला ट्रांस्फारमर होय के कारन मड़इन का डेर हवै कि कत्तौ करंट न उतर आवै।
कस्बा के राजू, संजय, रानी अउर नीरज कहिन कि राजापुर कस्बा मा तीन जघा बिजली का ट्रांस्फारमर खुला पड़ा हवै। कउनौ मा जाली नहीं लाग आय। मड़ई निकरत हवै अउर जानवर का करंट लागैं का डर बना रहत हवै। 2 मई का बिजली विभाग राजापुर मा मौखिक कहा गा हवै कि बिजली का ट्रांस्फारमर मा जाली लगवा दीन जाय।
राजापुर बिजली विभाग के जेई परमेश्वर का कहब हवै कि अपने कइती से सरकार के लगे लिख के भेज दीन गा हवै। जबै बजट आ जई तौ जाली लगवा दीन जई।
ब्लाक मानिकपुर, गांव कोटा कदैला मा बिजली के खम्भा अउर तार 2011 मा लाग रहैं। उंई सबै 2012 मा तेज आंधी आवैं मा टूट गें रहैं। या कारन से लगभग दुइ हजार मड़ई अंधियारे मा रहैं का मजबूर हवैं। बिजली का तार अउर खंभा लगवावैं खातिर मानिकपुर बिजली विभाग मा 10 मई का कहा गा,पै कउनो ध्यान नहीं दीन गा।
हिंया के भैरौ प्रसाद अउर पूर्व प्रधान सुरेश सिंह का कहब हवै कि बचचन के शादी करै मा अंधियार रहत हवै अउर मोबाइल चार्ज करै का अट्ठारह किलो मीटर मानिकपुर या फेर छह किलो मीटर डभौरा गांव जाय का परत हवै। कर्वी बिजली विभाग के अधिशाषी अभियंता राजमणि विश्वकर्मा कहिन कि राजीव गांधी विद्युतीकरण के तहत अक्टूबर तक बिजली अउर खंभा लगा दीन जई।

रिपोर्टर – सहोद्रा देवी और सुनीता देवी