दहेज प्रथा मा निहाय सुधार

अनुराधा का बाप राम करन
अनुराधा का बाप राम करन

जिला बांदा। अतर्रा कस्बा मोहल्ला साधू थोक के अनुराधा अउर नरैनी ब्लाक गांव महोतरा के शिवदेवी के ससुराल वाले दहेज का लइके मारपीट करत हैं। अनुराधा के ससुराल वाले 26 अक्टूबर का मिट्टी का तेल डाल के जला दिहिन हैं। वहिका इलाज इलाहाबाद मा चलत है। अनुराधा नियाव खातिर मुकदमा लगाये है।
अनुराधा का बाप राम करन कहत है-“मैं आपन बिटिया के शादी कमासिन ब्लाक के गांव तराया के आनन्द कुमार के साथै 26 जून 2013 मा कीने रहांै। या शादी दान दहेज सहित तीन लाख के भे रहै। आनन्द का यतने मा पेट नहीं भरा आय। वा मोरे बिटिया का 50 हजार रूपिया अउर मोटर साइकिल खातिर बहुतै मारत रहै। 26 अक्टूबर 2013 का तौ हद कई दिहिस। मिट्टी का तेल डाल के आगी लगा दिहिन है। मोर बिटिया 91 प्रतिशत जल गे है। बबेरू अउर बांदा सरकारी अस्पताल से इलाहाबाद रिफर कई दीन गा है। इलाहाबाद मा वहिका इलाज चलत है।” ससुर अम्बिका का कहब है कि हम अनुराधा से दहेज के मांग कतौ नहीं कीन हैं न मारपीट कीन आय। डिब्बी से जली है। हमका झूठै फंसावा जात है।
महोतरा के शिवदेवी कहिस-“मोर महतारी बाप 6 साल पहिले कमासिन ब्लाक गांव पाली के जयकरन के साथै शादी करिन रहै। एक साल तक ससुरे वाले नींकतान से राखिन। यहिके बाद दहेज का लइके मारपीट अउर गाली गलौज करैं लाग। उंई दहेज मा एक लाख नकद रूपिया अउर मोटर साइकिल मांगत रहै। एक दरकी मिट्टी का तेल डाल के जलाय देत रहैं। कउनौतान जान बचा के मैं मइके चली आई। मैं अब मनसवा के खिलाफ दहेज प्रथा अउर खाना खर्वा का मुकदमा अतर्रा कचहरी से लगाये हौं।”
मनसवा जयकरन का कहब है कि शिवदेवी के साथै कउनौतान के मारपीट नहीं करी जाय। वा अपने मर्जी से मइके मा रहत है। हम वहिका राखै का तैयार हन। वकील भोला दुबे कहिस मुकदमा चलत है। दहेज प्रथा के तहत ससुराल वालेन का पुलिस पकड़ लाई रहै। 24 अक्टूबर का उंई जमानत करा लिहिन हैं। अब दुबारा से सम्मन जइहैं तौ खाना खर्चा का रूपिया मिली।