बांदा जिले में तार उलझे मतलब लोग भी आपसे उलझेंगे

जिला बांदा, ब्लाक तिन्द्वारी, गांव जौहरपुर अउर माटा घर के छत से बिजली के तार लइ जायें मा लड़ाई होत  है। काहे से या गांव मा बिजली के खम्भा बहुतै दूरी-दूरी लाग हैं यहै कारन हेंया के मड़ई  बांस बल्ली  गाड़  के  दुसरेन के छत से बिजली के तार लगावत हैं।यहै कारन लड़ाई  झगड़ा होत है तिन्दवारी पावर हाउस के जेई रामऔतार का कहब है कि जबै सर्वे होइ तौ खम्भा गाड़े जइहैं।
चन्द्रभान कुशवाहा का कहब है कि गर्मी के मौसम मा  घर के ऊपर  से बिजली के तार लावें मा बहुतै परेशानी होत है जबै तार  टूट जात है तौ मड़ई गाली देत हैं।सरकार हमरे मुहल्ला मा  दुई चार खम्भा गड़वा दें तौ हमें भी सुविधा होइ जायें।शिवमंगल का कहब है कि सड़क के पार से तीन सौ मीटर दूरी से बिजली लावै का पड़त है  बरसात मा कउनौ के घर के  भीतर तार टूट के गिर जात हैं तौ लड़ाई होत है।लगभग 16 कनेक्शन यहिनतान के हैं।एक दिन बिजली रहत है  तौ दूसर दिन ख़राब होइ जात है कइयौ दरकी दरखास के बाद भी सुनवाई नहीं भे आय।

बाईलाइन-शिवदेवी

26/09/2017 को प्रकाशित