पद्मावती फ़िल्म पर रोक के लिए योगी ने लिखा केंद्र को पत्र, करणी सेना ने भी विरोध तेज़ किया

(फोटो साभार: विकिपीडिया)

निर्देशक संजय लीला भंसाली की आने वाली बहुचर्चित फ़िल्म पद्मावती पर विवाद बढ़ता जा रहा है। करणी सेना फिल्म पर रोक लगाने के लिए हर हथकंडा अपना रही है।  अपने विरोध को और तेज़ करते हुए करणी सेना ने 1 दिसंबर को देशभर में बंद का आह्वाहन किया है।
योगी ने केंद्र सरकार को पत्र लिखकर कहा है कि राज्य में स्थानीय निकाय चुनाव तथा बारावफात को देखते हुए फ़िल्म का रिलीज होना शांति व्यवस्था के हित में नहीं होगा। बता दें कि उत्तर प्रदेश में होने वाले निकाय चुनाव के लिए मतों की गिनती भी 1 दिसंबर को ही होनी है। योगी सरकार ने अपने पत्र में यह उल्लेख किया है कि पद्मावती फिल्म के प्रदर्शन पर रोक लगाने को लेकर कुछ संगठनों ने उच्चतम न्यायालय में याचिका दाखिल की थी। इस पत्र में कहा गया है कि 9 अक्टूबर को फिल्म का ट्रेलर आने के बाद से ही कई सामाजिक, सांस्कृतिक और अन्य संगठन इसके खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीँ, जयपुर में करणी सेना के नेता लोकेंद्र सिंह कल्वी ने पद्मावती की भूमिका में अभिनेत्री दीपिका पादुकोण पर भी निशाना साधा है।
राजस्थान का राजपुतानियों और करणी सेना के बाद अब यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी शांति व्यवस्था बिगड़ने का हवाला देकर 1 दिसंबर को फिल्म रिलीज करने की मांग की है।