हुनर बहुत बड़ा धन हई

e
कृष्णा देवी अउर सुदामा देवी

जिला सीतामढ़ी, प्रखण्ड, पंचायत सुरसण्ड उतरी टोल, गांव मीना बाजार सुरसण्ड। उहां वार्ड नम्बर तेरह के महिला सिकी के डलिया अउर तरह-तरह के समान बनाके अपन घर चलबई छथिन।
शिल्प सिकी कलाकार कृष्णा देवी कहलथिन कि हम बचपन से सिकी के समान बना के बेचई छी। हम अपने भी बनबई छी अउर रोज दस महिला के सिखबई छी। हमर पति के मरला तेरह साल हो गेल, हमरा एगो बेटा हय। हमर उम्र साठ साल हय लेकिन कोई सरकारी लाभ न मिलई छई। हम अपन हुनर से पुरा घर चलबई छी। देश-विदेश सब जगह हमर हाथ के बनायल समान सजावे के लेल लोग ले जाई छथिन।
उनकर बहन सुदामा देवी कहलथिन कि हमर पति के मरला सताईस साल हो गेल, हमरा एगों बेटी हय। हम ऐही हुनर से अपन घर चलबई छी। हर जिला के काई कार्यक्रम में हमरा स्टाॅल लगावे ला बोलायल जाईय। हम सरकारी विभाग से भी कही-कही जाई छी। सिकी के खिलौना, डलिया, चूड़ी इत्यादि घर के बच्चा-बच्चा जनई छथिन। सब मिलके आॅडर  तईयार करके भेजई छी। एही से लोग सब हमरा जनई छथिन।