स्कूल में रोज बनत तहरी

जिला महोबा, ब्लाक कबरई, गांव महेवा। एते के प्राथमिक स्कूल में अक्टूबर के महीना से रोज तहरी बनत हे। जीसे बच्चा स्कूल में खाना नई खात हें, ओर घरे खाना खाये जात हें।
प्राथमिक स्कूल के कक्षा चार के पढ़े वाले बच्चा

स्कूल के बताउत समस्या
स्कूल के बताउत समस्या

सीमा, सुजल, क्रान्ती ओर सुशील ने बताओ कि पन्द्रह दिन से हेडमास्टर स्कूल में नई आउत आय। जीसे रसोइया दोपहर के खाना में रोज तहरी बनाउत हें। अगर नमक कम होत हे, ओर मांगत हें तो नई देत आय। कक्षा पांच के विनोद बताउत हे कि हमाये स्कूल में खीर कभऊं नई बनत आय। जभे कि मीनू में हर शनिवार खा खीर बने खा नियम हे।
गांव की शिवरतिया, जानकी, ओर छोटे बताउत हें कि हम गरीब आदमी अपने बच्चन खा नींक खाना नई खवा पाउत आय। एई से हम कहत हें कि अगर स्कूल में सरकार बच्चन खे लाने नींक खाना भेजत हे तो मास्टर बच्चन खा काये नई देत आय।
हेडमाटस्र आनन्द कुमार ने बताओ कि में अभे मेडिकल छुट्टी में हों। एई से खाना बनवाये की जिम्मेदारी प्रधान खा दे दई हे।
प्रधान वृजेश कुमार कहत हे कि स्कूल में मिड्डे मील मीनू से बनत हे, ओर बच्चन खा नींक ओर भर पेट खाना दओ जात हे।
रसोइया प्रभा ने बताओ कि स्कूल में तीन रसोइया हें। खाना में तीन दिन तहरी बनी हे। काय से एक दिन कढ़ी बनने हती तो मठा नई मिलो। एक दिन में अकेले हती एई से तहरी बनी, तीसरे दिन तहरी ही बनने हती। ईखे बाद मीनू से खाना बनत हे।