सूडान देश में पांच भारतीय शांति सैनिकों की हत्या

अफ्रीका के दक्षिण सूडान देश में 5 भारतीय शांति सैनिकों की हत्या की घटना सामने आई है। ये सैनिक संयुक्त राष्ट्र संघ की तरफ से अन्य सैनिकों के साथ उसके जोंगलई राज्य में स्थित दफ्तर में तैनात थ। संयुक्त राष्ट्र संघ 193 देशों का संगठन है जो अन्य कई कामों के साथ साथ विश्व शांती बनाये रखने का काम भी करता है।
बहुसंख्यक दिनका समुदाय के लोग संघ के दफ्तर में छिपे हुए थे जिन्हें मारने के लिए नूएर समुदाय के विरोधी समूह द्वारा ये हमला किया गया. जो वहाँ दूसरा सबसे बड़ा समुदाय है। दक्षिण सूडान 2011 में अपनी आज़ादी के बाद से नस्ली हिंसा की चपेट में है। आज जारी हिंसा का दौर तब शुरू हुआ जब राष्ट्रपति सालवा कीर ने अपने पूर्व प्रतिनिधि डिप्टी रैक माचार पर तख्ता पलटने की कोशिश का आरोप लगाया। इस हिंसा में जो रविवार को शुरू हुई शुक्रवार तक पांच सौ लोग मारे जा चुके हैं।

सूडान का इतिहास
सूडान अफ्रीका का एक देश है। 1956 में आज़ादी के बाद सत्रह साल तक यह गृह युद्ध में फंसा रहा। इसके बाद उत्तरी और दक्षिणी सूडान के समुदायों के बीच नस्लीय, धार्मिक, आर्थिक युद्ध छिड़ गया जिसकी वजह से 1983 में दूसरा गृहयुद्ध हुआ। बातचीत के बाद 2005 में गृह युद्ध खत्म हुआ। इस समझौते से दक्षिण सूडान को काफी ताकत मिली और इसी का प्रयोग करते हुए 2011 में आज़ाद होकर वो अलग देश बन गया।