सिलाई-कढ़ाई के अलावा कुछ और करने का इरादा

12-02-15 Kshetriya Barabanki - Mobile Repair Girls for webजिला बाराबंकी, तहसील बंकी, गांव जहांगीरा बाग। यहां की लड़कियां सिलाई कढ़ाई ही नहीं मोबाइल मरम्मत करने और सोलर लाइट बनाने का भी काम करती हैं। प्रयत्न नाम की संस्था इन्हें ट्रेनिंग देने का काम करती है।
मोबाइल की मरम्मत का काम सीखने आई रीना, सीराजुल और बजीहा ने बताया कि हमें यह काम थोड़ा अलग लगा। इसमें कमाई का भी ज्यादा मौका है। आज हर किसी के पास मोबाइल है। जब मोबाइल इस्तेमाल करेंगे तो वह बिगड़ेगा भी। इस काम को सीखकर हम घंटे भर में पचास से सौ रुपए आसानी से कमा सकते हैं। घर के लोगों ने कहा था कि सिलाई सीख लो। लेकिन हमने जिद की। उन्हें मानना पड़ा। हम अपनी दुकान खोलना चाहते हैं। पर हमारे पास अभी इतने पैसे नहीं हैं।
प्रयत्न फाउंडेशन की निदेशक ना़हिद अकील ने बताया कि हम पिछले दस सालों से बाराबंकी में काम कर रहें है। पहले तो यह काम काफी मुश्किल लगा। हमने पहले उनके मुद्दों पर काम किया बाद में धीरे धीरे करके लोगों को हम पर भरोसा हो गया। यहां लड़कियां और लड़के दोनों ही इस काम को सीख रहे हैं।