सिंहासन ग्रहण करें

22-05-14 Mano - Toilet museum 122-05-14 Mano - Toilet Museum Louiseनई दिल्ली। जहां आजकल हर जगह शौचालयों की बातें ज़ोर शोर से हो रही हैं, वहीं दिल्ली में शौचालयों का एक संग्रहालय है। है न यह अजीब बात। इस संग्रहालय को दुनिया के दस सबसे अजीब संग्रहालयों में गिना जाता है।
‘संग्रहालय’ ऐसी जगह को कहते हैं जहां इतिहास में मौजूद पुरानी चीज़ों को बचा कर सुरक्षित रखा जाता है। इन चीज़ों को लोग इस खास जगह में देख सकते हैं। तो शौचालयों के संग्रहालय में क्या हो सकता है?
चार हज़ार साल पुराने शौचालय – टट्टी करने के लिए लोग कहां और कैसे बैठते थे – ये आप इस संग्रहालय में देख सकते हैं। कुछ साधारण शौचालय, तो कुछ बेहद सुन्दर सजावट वाले शौचालय। एक शौचालय तो ऐसा है जो देखने में बिल्कुल किताबों की अलमारी की तरह है।
उससे भी अजीब है फ्रांस देश के लुई (चैदहवें) राजा का शौचालय। माना जाता है कि वे अपने दरबार के वक्त सिंहासन में ही बैठे बैठे टट्टी करते थे। उनके शौचालय की नकल इस संग्रहालय में की गई है। संग्रहालय को शुरू करने वाले लोगों का सोचना है कि इतिहास के ये नमूने देख के लोगों को समझ में आएगा कि किस तरह की कोशिशें सदियों पहले की गई थीं और शायद यह शौचालय इस्तेमाल करने के लिए लोगों के लिए एक प्रेरणा बने।