सरकार से रसोईया की मांग

मांग को लेकर प्रदर्शन कर रही रसोईया
मांग को लेकर प्रदर्शन कर रही रसोईया

सीतामढ़ी और शिवहर जिला में मध्याहन भोजन की रसोईया जिला में धरना प्रदर्शन कर रही है। जिसमें सरकार से कई मांगे कर रही है। इसी मांग को लेकर चैदह फरवरी 2015 को शिवहर समाहरणालय गेट पर धरना प्रदर्शन किया गया। सीतामढ़ी में 17 जनवरी को हुआ था।
शिवहर जिला के तरियानी प्रखण्ड के रसोईया सुशीला देवी, डुमरी कटसरी प्रखण्ड के रसोईया रीता देवी, सीतामढ़ी के रीगा प्रखण्ड के चंद्रकला देवी, सुदामा देवी का कहना है कि हम सब हर रोज खाना बनाते हैं लेकिन हम लोगो को एक हजार रूपया मानदेय मिलता है। तो इतने रूपये से क्या होगा? हम लोगो की तीन मांग है जो सरकार को पुरा करना होगा। एक तो सबसे आठ हजार रूपया मानदेय करे, दूसरा वीमा करें और तीसरा मातृ अवकास का तीन महिने की छुटी दे। ताकि हम लोगों को भी कुछ राहत हो।
शिवहर जिला के तरियानी प्रखण्ड के प्रधानाध्यापक अच्छेलाल राम का कहना है कि राज्य में कुल सात लाख रसोईया है जिसमें लगभग एक परिवार से पांच वोट सरकार को मिलती है। तो पैतिस लाख वोट मिलता है।
सीतामढ़ी जिला के जिला पदाधिकारी डाॅक्टर प्रतिमा का कहना है कि रसोइया सरकार से मांग कर रही है। यहां से मांग को राज्य में हम भेज दिये हैं।
शिवहर जिला के मध्याहन भोजन पदाधिकारी कन्हैया कुमार राय का कहना है कि दिल्ली में इस बात को लेकर चर्चा हूई है जिसमें एक हजार रूपया बढ़ाया गया है।