सरकारी गेहूं केन्द्र मा सन्नाटा

जिला चित्रकूट, ब्लाक कर्वी, शिवरामपुर क्षेत्रीय सहकरी समिति। हिंया के समिति मा अट्ठारह गांव लागत हवंै। या दरकी 1 अप्रैल से 16 जून तक गेहूं खरीदै का हवै, पै या समय समिति मा सन्नाटा पसरा हवै। शिवरामपुर क्षेत्रीय सहकारी समिति के एकाउन्टेंट सत्येन्द्र कुमार विश्वकर्मा का कहब हवै कि 1 अप्रैल से 5 मई तक मा कुल दुइ किसान गेहूं बेचै आय हवंै। यहिमा से एक किसान आठ कुंतल अउर दूसर किसान साढ़े सोलह कुंतल गेहूं बेचिस है। गेहमं खरीद 1 अप्रैल से शुरू हवै। अंतिम तारीख 16 जून तक हवै। गेहूं खरीदैं का लक्ष्य दस हजार कुंतल हवै। एक महीना से ज्यादा होइगा हवै, अबै तक समिति मा किसान गेंहूं बेचै नहीं आवा आय। चकला गांव के मिथुन अउर जगिया कहिन कि या साल गेहूं नहीं पैदा भा। हमरे खाये का नहीं आय। मोल खरीद के खाये का परी तौ समिति मा गहंू कसत बेंची। गांव पड़री के भोला का कहब हवै कि बेमौसम बारिस गेहूं, चना अरहर का लीप लिहिस हवै। या साल हमरे खाये के लाले पर गें हवंै। समिति मा गेहूं बेचै के बात तौ दूर के हवै।