सरकारी अव्यवस्था का इक और कमाल – इस बार फैजाबाद जिले के सफीपुर की रेनू ने चुकाई

जिला फैजाबाद, ब्लाक बीकापुर, गांव सफीपुर कै रेनू जिला अस्पताल के स्वास्थ्य व्यवस्था कै भेट चढ़ गई। परिवार वाले के अनुसार जब 6 जनवरी का रेनू के प्रसव पीरा भए तौ रेनू का जिलास्पताल मा भर्ती करावा गा ।7 जनवरी का आपरेशन के द्वारा बच्चा पैदा भा। वकरे बाद रेनू कै तबियत बिगडै लाग। डाक्टर का सूचना दीन गए तौ वै कउनौ ध्यान नाय दिहिन।छह घंटा बाद जब हालत ज्यादा ख़राब भए तौ खून चढ़ावै लागे वही समय रेनू कै मउत होइगै।
महेश कुमार गुप्ता रेनू कै पति कै कहब बाय कि 6 जनवरी के रात रेनू कै तबियत कुछ ख़राब भए तौ बीकापुर स्वास्थ्य केंद्र मा दिखायन। वहिके डाक्टर पहिले तौ कहिन कौथा बच्चा आय जब बताय गए कि पहिला तौ आनाकानी करिन बड़ी देर बाद अन्दर लै जाय के देखिन फिर बोलीं घरे लै जा अबही डिलेवरी हुवय मा टाइम बाय।आराम ना हुवय पै फैजाबाद लै गयन।वहूँ इहै जबाव दिया गए कि अभी डिलेवरी कै सही टाइम नाय भए बाय तोहरे सबकै मं कहै तौ भर्ती कै दिया।वकरे बाद रेनू का आपरेशन कक्ष मा लै गइन।
आधा घंटा बाद नर्स आइके बताइन कि लड़का भए बाय। लकिन हमरे सबका मिलै नाय दिहिन। रेनू कै हालत खराब हुवय के बादौ रात मा रेनू का कम्बल ओढ़ाय के सब नर्स सोय गइन अउर उनकै हालत ज्यादा ख़राब होय गए। कंचन आशा कार्यकर्ता कै कहब बाय कि रेनू के ठंढी लाग गए रही।
महिला जिला अस्पताल का सी.एम.एस डाक्टर वंसर कै कहब बाय कि रेनू कै आपरेशन नार्मल रहा। हमरे पास सब दवा अउर सुबिधा मौजूद बाय।उनकै बीपी कम रही। खून कै जरुरत रही। हम अपने तरफ से रेनू का बचावे कै पूरी कोशिस करेन।

रिपोर्टर- संगीता और मनीषा

13/01/2017 को प्रकाशित