सड़क मा बे्रकर बनवावैं के करिन मांग

agarona barkar ki mag copyजिला चित्रकूट, ब्लाक मानिकपुरा, गांव अगरहुंड़ा, पुरवा अड़गम बाबा। हिंया के मड़ई कहिन कि सड़े तो बनी हवै, पै ब्रेकर नहीं बना आय। बे्रकर बनवावैं खातिर मड़ई पी. डब्ल्ू. डी. विभाग मा 27 जनवरी का लिहिखत दिहिनपै भरोसा दें के अलावा कुछौ नहीं मिला आय।
पुरवा के रामभवन, सोहन अउर सुंदर का कहब हवै कि हमार बच्चा सड़क से निकरत हवंै। मोटर साइकिल खूबै चलत हवै। यहिसे सड़क मा बे्रकर बनब जरुरी हवै। अगर सड़क मा बे्रकर न बनी तो यहिसे हमार बच्चा चोंटा सकत हवै। एक्सीडेंट का खतरा खूबै बना रहत हवै। एक दिन पुरवा के एक लड़की का एकसीेंडेट एक महीना पहिले होइगा रहै। वा बाल बाल बच गे रहै। मड़ई बेंकर के मांग पी. डब्ल्. डी विभाग मा करत हवैं।
पी. डब्ल्यू. डी. विभाग के अधिशाषी अभियंता एस.दास. का कहब हवै कि सरकार से ब्रेकर बनवावैं के मांग कीन जई। अगर बे्रकर पास होइ तो बनवा दीन जई।
कर्वी ब्लाक, कस्बा सीतापुर हिंया भी कुछ यहिनतान सड़क मा बे्रकर बनै के मांग मड़ई करत हवैं। या सड़क से रोज के हजारन साधन निकरत हवैं। हमार घर सड़क के किनारे परत हवै। अमावश के समय तौ साण्न के आवा जाही रात दिन लाग रहत हवै। अगर सड़क मा बे्रकर बन जाये ता हमार डेर खतम होइ जाये। साधन चलावैं वाले मड़ई भी थोइ धीरे साधन चला सकत हवै।
पी.डब्ल्यू.डी. विभाग के सहायक अभियंता सुरेश राम का कहब हवै कि सरकार कइती से बे्रकर बनवावैं खातिर बजट अई तौ सड़क मा बे्रकर जरुर बनवावा जई।