सड़क के गिट्टी फोडि़स दुई आंखी

या आय चिल्ला सड़क, यहिके बीच मा है पलरा गांव
या आय चिल्ला सड़क, यहिके बीच मा है पलरा गांव

जिला बांदा, ब्लाक तिन्दवारी, गांव पलरा। 15 अप्रैल 2014 का सड़क के गिट्टी पलरा गांव के मोटू अउर सूबेदार के भैंस के आंखी फोड़ दिहिस। इनतान के घटनन के बाद ही विभाग कारवाही करत है।
पलरा गांव का मोटू कहिस-“मैं सड़क के किनारे-किनारे दुकान से सउदा लइके घर जात रहौं। सड़क के गिट्टी इनतान चिटकी कि मोरे आंखी मा घुस गे अउर आंखी फूट गे। यहिनतान सूबेदार के भैंस के आंखी खराब होइगे है। यहिसे सबै मड़ई या सड़क से परेशान हैं।”
पलरा कस्बा के दुकानदार जगतपाल, जितेन्द्र अउर देवीचरन कहिन कि पूर्व विधायक विशम्भर प्रसाद निषाद से फोन मा बात करत हन कि या बस्ती के अन्दर के सड़क बनवा दें। पांच साल होइगे अबै तक न विभाग अउर न नेता मंत्री ध्यान देत आय। रात दिन बराबर धूल खाय का मजबूर हन। नेता मंत्री रोजै प्रचार करैं जात हैं वोट खातिर जनता का चिन्हत हैं, पै उनके समस्या से अनजान बने रहत हैं। उनका नहीं देखात आय कि जनता का कउन परेशानी है। पी.डब्लू.डी. निर्माण खण्ड दुई के जेई सुरेन्द्र कुमार का कहब है कि अबै अतरहट गांव मा काम लाग है। यहिके बाद पलरा सड़क मा काम चालू कीन जई।