शौचालय बनाउ लाभ उठाउ

DSC03813जिला शिवहर, प्रखण्ड तरियानी, गांव सरवरपुर, वार्ड नम्बर एक। इहां शौचालय न रहे के कारण लोग सबके शौच के लेल बहुत दिक्कत हो रहल हई। जबकी एई टोला में लगभग बीस घर हई।
इहां के मंझरिया देवी अउर अनुराधा देवी कहलथिन कि चार साल पहिले शौचालय बनलई, उ कहिया धस गेलई। शौचालय न रहे से अतेक दिक्कत होई छई कि केकरा से कहल जाउक। शौचके लेल त रोड पर जाई छी, चाहे भर ठेहुन पानी हेल के खेतें जाये परई छई। सांप बिच्छु से भी बड़ा डर लगई छई। सबसे त रात-विरात में बड़ा दिक्कत होई छई। तबियत खराब होई छई त दुरे पर बइठे परइ छई। मजदूर आदमी छी, एगो दुरा भरायल त पारे न लगई छई। शौचालय कहां से बनबाउ?
मुखिया उपेन्द्र साह कहलथिन कि पहिले त शौचालय एन.जी.ओ. के तहत बनईत रहलइह। ओई में खराब शौचालय के बहुत यिकायत अबईत रहलईय, ऐई के लेल अब त अपने से बनयला के बाद लाभ मिलई छई।
प्रखण्ड विकास पदाधिकारी विनय कुमार सरस अउर पी.एच.ई.डी. विभाग के बड़ा बाबू षंकर रजक कहलथिन कि जे लोग शौचालय बनाबें के चाहई छथिन उ लोग शौचालय बनाके पी.एच.ई.डी. विभाग में आवेदन अउर फोटों दुनु जमा करथिन। मनरेगा के तहत पैतालीस सौ अउर पी.एच.ई.डी. विभाग के द्वारा छियालीस सौ रूपईया कुल ऐकानवे सौ रूपईया लाभ देल जतई।