लोन बनो मोत को कारन

यसोदा नन्दन के मोत को बताउत कारन
यसोदा नन्दन के मोत को बताउत कारन

जिला महोबा, ब्लाक जैतपुर, गांव सतारी। एते के लगभग 30 साल के आदमी यशोदानन्दन ने लोन को रूपइया नई चुका पाओ हे। जीसे सुगिरा इलाहाबाद बैंक मैनेजर नोटिस भेजी हे। जीसे ऊ परेशान हो जहर खाके आत्महत्या कर लई हे।यशोदानन्दन के भाई बृजगोपाल ने बताओ कि हम भूमिहीन मजदूर आदमी हे। जीसे मोये भाई ने 2006 में प्रधानमंत्री रोजगार योजना के तहत 90 हजार रूपइया लोन लओ हतो। ऊखे छोट-छोट तीन बच्चा हें। जोन किरान की दुकान धर के आपन परिवार पालत हतो। अभे 26 जुलाई 2013 खा सुगिरा इलाहाबाद बैंक से लोन चुकाये खा नोटिस भेजी हे। ऊने बताओ कि बैंक मैनेजर अजय प्रकाश भास्कर कहत हतो कि अगर 10 अगस्त 2013 तक लोन जमा न करहे तो जेल भेज दओ जेहे।ऊ दिना से परेशान रहन लगो ओर 9 अगस्त 2013 खा जहर खाके आत्म हत्या कर लई। एई से ऊखे भाई ब्रजगोपाल ऊखे परिवार पाले खा पांच लाख रूपइया ओर बैंक मैनेजर के खिलाफ कारवाही के मांग करत हें। सुगिरा इलाहाबाद बैंक इन्चार्ज ने बताओ कि नोटिस एतई से भेजी हती, पे ऊ बैंक मैनेजर को 10 अगस्त 2013 खा ट्रान्सफर हो गओ हे। में 1 अगस्त 2013 खा आओ हों, ऊ दोनऊ के बीच में का भओ हे। मोए कछू पता नइयां। बाद में बैंक इन्चार्ज ने नाम बतायें से मना कर दओ।