लैपटाप न मिलें से परेषान

अर्चना

जिला बांदा, ब्लाक तिन्दवारी, गांव पपरेन्दा। एते के अर्चना खप्टिहाकलां के बाला जी महाराज महा विद्यालय में बी.ए. की पढ़ाई करत हे। लैपटाप पायें खा ऊने फारम भरो हतो। ईखे बाद भी ऊखे लैपटाप नईं मिलो आय। जीसे ऊ बोहतई परेशान रहत हे।
अर्चना बताउत हे कि मेंने लैपटाप मिले के समय अपने विद्यालय में फारम भरे हते, पे मोये लैपटाप नई मिलो आय। न मोओ नाम सूची में रहो आय। मास्टर हर लड़का बिटिया से फारम भरें में सौ रूपइया लेय हते। जभे 26 जून 2013 खा मुख्यमंत्री बांदा जी.आई.सी. मैदान में लैपटाप बांटे आये हते, तो में चालीस रूपइया किराया लगा के बांदा आई हती। स्कूल में सौ रूपइया देय के बाद भी सूची में नाम नई रहो आय ई कारन निराश होके वापस लौटे खा परो हतो। लैपटाप मिलें के लालच में मोओ तीन सौ रूपइया खर्च भओ हे।
बाला जी महाराज महाविद्यालय को प्रधानाध्यापक डाक्टर इच्छाराम ने बताओ कि हमाये विद्यालय में चार सौ पचासी लड़का बिटिया हते। दो सौ इक्कीस लड़का बिटियन खा लैपटाप बंट चुके हें। जोन लड़का बिटियन ने फारम नई भरें हंे ऊखा किते से लैपटाप मिलहे। हम कछु नई कर सकत आय। काय से ईमें हमाई कोनऊ गलती नइयंा।
जिला विद्यालय निरीक्षक अधिकारी ओ.पी. मिश्रा ने बताओ कि जभे लैपटाप को वितरण करें मुख्यमंत्री आये हते, तो बाला जी महाराज महाविद्यालय की पूरी लिस्ट ओते भेजी गई हती। अगर ऊ लिस्ट में अर्चना को नाम हे तो जिला विद्यालय निरीक्षक आफिस में आ के लैपटाप ले जाये।