ललितपुर के खिरिया गाँव में फैला खसरा,चिकित्सा की सुविधा न होने से लोग इसे ‘देवी’ का रूप मान रहे हैं