लकड़ी बचाये के लाने मिलो गैस

kasba-se-khabar-photo-gais-Wजिला महोबा, ब्लाक जैतपुर, कस्बा बेलाताल एते 1 जून खा पांच गांव के आदमियन खा भारत सरकार केती से फ्री गैस सिलेण्डर ओर चूल्हा दओ हे। गैस चूल्हा ओर सिलेन्डर पाके आदमियन के चेहरा खिल गये हे।
एते की सियारानी कहत हे कि हमें विश्वास नई होत हे कि गैस में रोटी बनाये के लाने मिलहे। काय से हम गरीब मजदूर आदमी किते से खरीद पाहे। दो वक्ट की रोटी तो मुश्किल से मिल पाउत हे।
रेखा रैकवार कहत हे की हम दो किलोमीटर दूर से लकड़ी काट के लाउत हे। केऊ दइयां हाथ पांवन मे कुल्हाड़ी लग जात हे। लकड़ी न होंय के कारन खाना नई बन पाउत हे। एक लोग मजदूरी करत हे, ओर एक लोग जंगल की लड़की काट के लाउत हते। बरसात मे खाना बनाये मे बोहतई परेशानी होत हती। नूरजहां ओर राजकुमारी कहत हे हम लोगन खा लगे करत हतो कि हमाई पूरी जिंदगी चूल्हे मे खाना बनाये मे निकर जेहे। हमें कोनऊ लाभ नई मिलो हे। हमें सबसे बड़ी खुशी जा भई हे, कि अब हमें चूल्हें में रोटी न बनाने परहे, ओर चिन्ता भी कम हो गयी हे।
सांसद पुष्पेन्द्र सिंह चन्देल कहत हे की अकेली ओरते जंगल जात हे, लकड़ी काटन जीसे केऊ तरह की समस्या आउत हे। धुआं से प्रदूषण फेलत आंखे खराब होत हे। एई से लाल राशनकार्ड मे फ्री गैस सिलेन्डर दओ हे।

रिपोर्टर – श्यामकली, सरोज सैनी