रिपोर्ट लिखाये खे बाद भी, नई भई कारवाही

राजकुमारी
राजकुमारी

जिला महोबा, ब्लाक चरखारी, गांव चन्दौली। एते 15 सितम्बर 2013 खा बन्शीधर की मदन, जयसिंह, राधेलाल ओर प्रेमचन्द्र के साथे लड़ाई भई हती। जीमें बन्शीधर की मताई सियारानी को पांव टूट गओ हतो। बन्शीधर ईखी रिपोर्ट 15 सितम्बर 2013 खा खरेला थाने में लिखाई हती, पे ओते से कोनऊ कारवाही नई भई आय। एई से बन्शीधर की ओरत राजकुमारी ने 21 जनवरी 2014 खा तहसील दिवस में दरखास देके नियाव के गोहार लगाई हे।
बन्शीधर की ओरत राजकुमारी ने बताओ कि हमाये घरे नीम को पेड़ लगो हे। बरसात में दिवार गिर जाये खे कारन 15 सितम्बर 2013 खा मदन, जयसिंह, राधेलाल ओर प्रेमचन्द्र सुबेरे 9 बजे दातून टोरे खे लाने घर में घुस आये। जभे मोये देवर बन्टा ने मना करो तो ऊं सब जने बन्टा खा मारन लगे। भाई खा मार खात देख मोओ आदमी बन्शीधर ओर सास सियारानी बचाउन गये। ऊने मोये सास खा धक्का मार दओ। जीसे ऊखो पांव टूट गओ। ओई दिना हम खरेला थाने में सबन खे रिपोर्ट लिखाउन गये हते। ओते अकेले मदन की रिपोर्ट लिखी हती, पे अभे तक कोनऊ कारवाही नई भई आय। एई से मेंने 21 जनवरी 2014 खा तहसील दिवस में दरखास दई हती कि दुबारा ऊखे ऊपर कारवाही करी जाय।
खरेला थाना के हेड कास्टेबिल प्रोन्नतिमान सुरेश चन्द्र मिश्रा बताउत हें कि बन्शीधर ने अकेले मदन खे रिपोर्ट लिखाई हती। जीखा धारा 107, 116 के तहत चालान कर दओ हतो।