राशन कार्ड खातिर परेशान मड़ई

DSC08986
राशन कार्ड के करत मंग

जिला चित्रकूट, बलाक मानिकपुर, गांव बसिला दरियाव पुरवा। हिंया के मिर्री, राजकुमारी, चन्द्रभान, रामनरेश अउर शिवनरेश समेत दस लोगन का कहब हवै कि हम परदेश मा रहेन। जबै राशन कार्ड के फार्म भरे गें हवै। गरीब मड़इन के लगे राशन कार्ड तक नहीं आय कि मिट्टी का तेल जला सकैं।
रामनरेश अउर शिवनरेश का कहब हवै कि गरीब मड़ई परदेश न जइबे तौ कहां से खइबे। सरकार कुछौ गरीबन का योजना निकारत हवै, तौ परदेश वाले का नहीं मिल पावत आय। यहिनतान हम पंजाब ईंटा पाथै परिवार समेत गये रहेन तौ गांव मा राशन कार्ड के फार्म भरेंगे हवै। या कारन पीला राशन कार्ड तक नहीं आय कि मिट्टी का तेल जला सकैं। बाजार से लइके तीस रूपिया लीटर का जलाइत हन। राशन कार्ड बन जात तौ कुछौ सहारा होइ जाये।
प्रधान चुन्नीलाल का कहब हवै कि सरकार योजना निकारत हवै। दुबारा राशन कार्ड के फार्म भरे जइहैं तौ भरवा दीन जई। अपने कइती से बहुतै कोशिश करत हौं कि गरीबन का सरकारी योजना का लाभ मिलै।