यूपी व उतराखंड के गांव में युवक की हत्या से तनाव

साभार: विकिपीडिया

यूपी-उत्तराखंड बॉर्डर के गांव दल्लावाला और जोगावाला-दाबकी खेड़ा के ग्रामीणों के बीच तनातनी का माहौल है।
दल्लावाला के युवक की हत्या से ग्रामीणों में पुलिस प्रशासन के प्रति आक्रोश व्याप्त है। पुलिस ने तनाव को देखते हुए आनन फानन में शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। लेकिन परिजनों ने शव का अंतिम संस्कार करने से इंकार दिया।
आक्रोशित ग्रामीणों ने हत्याभियुक्तों की गिरफ्तारी और मृतक परिवार को आर्थिक सहायता दिलाने की प्रशासन से मांग की है। पुलिस की मौजूदगी में गमगीन माहौल में उसका अंतिम संस्कार किया गया। तनाव को देखते हुए बॉर्डर के गांवों में भारी पुलिस बल तैनात है।
बता दें, यूपी और उत्तराखंड की सीमा से सटे गांव दल्लावाला निवासी 22 वर्षीय सोकेश पुत्र मांगेराम चौहान अपनी बुआ के लड़के अनिल कुमार के साथ मंगलवार की सुबह करीब 10 बजे भैंसा-बुग्गी लेकर खेतों से चारा लेने के लिए जा रहे थे। गांव जोगावाला मार्ग पर सामने से आ रही युवकों की बाइक भैंसा बुग्गी से टकरा गई। बाइक पर दाबकी खेड़ा निवासी फिरोज, संतर अली और करमूदीन सवार थे। जो कि बाण गंगा से मछली पकड़ने जा रहे थे। बाइक टकराने को लेकर दोनों पक्षों में कहासुनी के बाद मारपीट हो गई। कुछ देर बाद दोनों गांवों के लोग लाठी डंडे लेकर पहुंच गए। हमले में सोकेश के सीने मे मछली पकड़ने वाला तेजधार वाला औजार घोंप दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। सोकेश की मौत को सूचना मिलने पर चौहान बिरादरी बहुल गांव में आक्रोश फैल गया।