मोदी पहुंचे महोबा लेकिन खुश नहीं किसान

जिला महोबा, शहर महोबा 24 अक्टूबर को प्रधानमंत्री पोचे महोबा। पहली बार कोनऊ प्रधानमंत्री को बुंदेलखंड आबे को आदमियन को महीनो से इन्तजार हतो। का आबे वाले चुनाव में बुंदेलखंड में अपनी साख जमाबे मोदी इते आय ते। कारण जो भी हो मोदी ने महोबा में यू पी की चिंता जताई।
नौ जवान रोजगार की उम्मीद में के मोदी कछू एलान कर हे। लेकिन मोदी ने केवल कई के यू पी में कोनऊ रोजगार नईया। दूर दूर से आदमी मोदी को सुनबे के लाने आय। लेकिन कड़ी सुरक्षा के मारे आदमी मैदान तक नई पोच पाए। महारैली में आय आदमी अपनी उम्मीद के संगे निराश हो के लौट गये। हरचरण ने बताई के हम ओरे इतने दूर से आय और तीन किलो मीटर से रोक लओ। हम कुलपहाड़ से आय आज तक एसो नई भओ कबहु जेसो कर रहे।
संतराम ने बताई के पहाड़ पे चढ़ के पसीना बहा के पोच रहे। और जो का मतलब हे के उते तक जान नई दे रहे। पुलिस लगी तो हमाई जांच कर लो।
लखन लाल ने बताई के बड़ी उम्मीद से आय ते के मोदी से मिल हे लेकिन पुलिस की गुंडा गिरदी ने तो में रस्ता ही बंद कर दई। सब आदमी बड़ी मुश्किल से पहाड़ पे चढ़ के आ रहे। पंकज अनुरागी ने बताई के मोदी उत्तर प्रदेश को विकास करे जो मोड़ी मोड़ा पढ़े लिखे घूम रए इन्हें रोजगार मिलबे।

रिपोर्टर- सुनीता और श्यामकली

25/10/2016 को प्रकाशित