मुज़फ्फरनगर पर नज़र – मुआवज़ा बढ़ा

Photo0809जिला मुज़फ्फरनगर और शामली, उत्तर प्रदेश। सितंबर 2013 में हुए दंगों के दौरान मारे गए लोगों के परिवार वालों को उत्तर प्रदेश सरकार ने तीन-तीन लाख रुपए की सहायता बढ़ाने का फैसला लिया है। दंगों का सबसे गहरा असर मुसलमान समुदाय पर पड़ा था। हज़ारों की संख्या में लोग अपने घर और गांव छोड़कर राहत कैंप में रह रहे हैं।
इसके पहले दंगों के दौरान मारे गए लोगों को राज्य सरकार ने दस लाख रुपए और केंद्र सरकार ने दो लाख रुपए देने का ऐलान किया था। तीन लाख रुपए की सहायता बढ़ाने से अब हर परिवार को पंद्रह लाख रुपए की आर्थिक सहायता मिल सकेगी। इसके साथ ही राज्य सरकार ने दंगों में जिन महिलाओं के साथ यौन हिंसा हुई थी उनका नाम सार्वजनिक कर दिया था। कानून इस बात की इजाज़त नहीं देता है। राज्य सरकार ने अपने इस कदम के लिए सुप्रीम कोर्ट में बिना शर्त माफी मांगी। अभी भी दंगों से प्रभावित लोग बेघर हैं और मौसम की मार झेल रहे हैं।