मुआवजा खातिर धरिन धरना

karvi
मुआवजा खातिर करत मांग

जिला चित्रकूट, ब्लाक कर्वी, गांव ब्यूर। हिंया के लगभग डेढ़ सौ मड़इन का तीन बरस से जमीन का मुआवजा नहीं मिला। या कारन मड़ई मुआवजा लें खातिर 27 मई 2013 का पटेल चौराहा  मा धरना धरिन। धरना मा किसान यूनियन अध्यक्ष राम सिंह पटेल समेत लगभग सौ मड़ई शामिल रहैं। 31 मई 2013 का डी.एम. बलकार सिंह भरोसा दिहिन कि मुआवजा देवावा जई।
ब्यूर गांव के कैरा, दददू , लाला भाई, गजोधर अउर सोना का कहब हवै कि रसिन गांव मा बांध बना रहै, तौ सरकार बांध बनवावे  खातिर जमीन लिहिस रहै। तीन बरस होइगे अबै तक जमीन अउर पेड़ का मुआवजा नहीं मिला आय। दूसर बात ब्यूर गांव डूब क्षेत्र मा आवत हवै। यहिसे बचै खातिर बांध के पानी के कउनौ व्यवस्था नहीं आय। गरीबन का इं समस्यन से बचावै खातिर कउनौ नहीं सुनत आय। गरीब किसान खेती किसानी कइके परिवार वालेन का पेट रोटी चलाइत हन। जबै से जमीन बांध बनै खातिर लइ लीन गे हवै। तबै से बनी मजूरी करित हन। मजूरी भी रोजै नहीं लागत हवै। अगर जमीन अउर पेड़ का मुआवजा मिल जाये तौ इं समस्यन से न जूझै का परी। मुआवजा खातिर पूर्व डी.एम. दलीप कुमार 1 जुलाई 2011 का आदेश दिहिन रहैं, पै कउनौ सुनवाई नहीं भे आय।
किसान यूनियन जिला  अध्यक्ष राम सिंह पटेल का कहब हवै कि डी.एम. बलकार सिंह 31 मई 2013 का सोनेपुर कलेक्ट्रेट मा बोलाइन रहैं। उंई मुआवजा दें का भरोसा दिहिन हवैं।
कर्वी एस.डी.एम. चन्द्रप्रकाश उपाध्याय कहिन मड़ई का मुआवजा के मांग सरकार से कीन जई। रूपिया अई तौ मुआवजा मिल जई।