मुआवजा के करत मांग

अनशन मा बइठ
अनशन मा बइठ

जिला चित्रकूट, ब्लाक कर्वी, गंव रसिन, मजरा ब्यूर। हिंया के मड़ई 20 अक्टूबर 2013 से पटेल चैक मा कृमिक अनशन करिन हवैं। यहिसे पहिले भी कइयौ दरकी मड़ई अनशन कइ चुके हवैं। काहे से कि रसिन बांध बनै मा मड़इन के घर अउर पेड़ लइ लीन गे हवै। सरकार अबै तक घर अउर पेड़न का मुआवजा नहीं दिहिस आय। या समस्या लगभग तीन बरस से हवै। मुआवजा खातिर पिछले बरस पूर्व डी.एम. दलीप कुमार गुप्त भरोसा दिहिन रहैं। फेर भी मुआवजा नहीं मिला आय।
या मामला का लइके खबर लहरिया पत्रकार ए.डी.एम संतोष कुमार से बात करिन। उंई बताइन-“ मड़इन के समस्या तौ गम्भीर हवै। मुआवजा के मांग सरकार से कीन जई। जबै सरकार कइती से रूपिया आई तौ मड़इन का मुआवजा मिली।” ब्यूर मजरा के शिवपूजन, दद्दूराम, रामकिशुन अउर दुजिया का कहब हवै कि रसिन बांध का बने तीन बरस होइगा हवै। हमरे घर, खेत अउर पेड़न का बांध बनै मा सरकार लइ लिहिस हवै। अबै मुआवजा के नाम मा कुछौ नहीं मिला आय। गरीब मड़ई घर से बेघर होइगा हवै। यहै से सोचित हन कि घर अउर पेड़ का मुआवजा मिल जाये तौ रहै का घर होइ जई। यहिके खातिर कइयौ दरकी अनशन कीन गा तबहूं मुआवजा नहीं मिला आय।