मिट्टी भराई में उठल समस्या

mitti gav ed wजिला सीतमाढ़ी, प्रखण्ड सोनबरसा, गांव इंदरवा। उहां मनरेगा के तहत दस बारह लोग के मिट्टी भराई भेल हई जेईमें उपर से रूपईया न अयला के कारण बिचैलिया जमीन वाला से मिट्टी भराई के रूपईया मांग रहल छथिन।
मिट्टी भराई करावे वाला सत्येन्द्र महतो, महेन्द्र महतो सब कहलथिन कि हम सब मनरेगा से मिट्टी भराई करवईली। तब बिचैलिया हमरा सब से बीस-बीस हजार रूपईया लेले रहे। उ कहलक कि हमरा उपर से रूपईया पास होके आ जतई त आहा के खर्च वापस कर देब। लेकिन सुनई छी कि उपर से रूपईया न अलईय जेई कारण हमरा सब के जमीन पर तीन सौ सताईस टेलर मिट्टी गिरल हई उ खर्चा जोड़के मांगई छई। जब न देली त हमरा पर पंचायत बईठा देलक अउर पंचायत फैसला कलकई कि ओकर खर्चा मिले के चाही। हम सब अउर रूपईया कहां से दियई?
बिचैलिया अनील कुमार कहलथिन कि हम सब सौ कलम जमीन पर मिट्टी भराई कईली लेकिन कहियो न हम सब ऐईसन फसली। अभी रूपईया न अयला से हम सब बहुत घाटा में छी। जेई के लेल जमीन वाला के रूपईया वापस करे के होतई। जब उपर से रूपईया पास होके आ जतई तब हम ओकरा रूपईया लौटा देबई।
पंचायत रोजगार सेवक रविन्द्र कुमार कहलथिन कि ऐईसन बहुत लोग फसल हई। वजट न आ रहल हई।
कार्यक्रम पदाधिकारी कुमार गौरव कहलथिन कि अभी वजट कम होये के कारण रूपईया न आ रहल हई। तब तक जमीन वाला बिचैलिया के रूपईया दे देउक। जब रूपईया आ जतई त ओकरा चेक मिल जतई।