मासूम निर्भया के न्याय कै आवाज

उत्तर प्रदेश के फैजाबाद जिला मा जगह जगह मासूम निर्भया के न्याय खातिर हर तरह से मनई आवाज उठावत हईल।
कहूं धरना प्रदर्शन कई कै तौ कहूं रैली निकारिन कै ई अत्याचार खाली एक ही जिला मा नाय बाय। उत्तर प्रदेश के हर जिला मा मासूम बच्चियन से लइकै साठ साल तक कै मेहरारू सुरक्षित नाय हईन। हजारों मासूम निर्भया हिंसा कै शिकार होई चुकी हईन। जइसै कि फैजाबाद जिला के देवकाली कस्बा मा 2 मार्च कै एक पांच साल के मासूम बच्ची के साथे बलात्कार भै रहा। ऐसन अपराध करै वाले मनईन का सरकार कवन काम करत बाय। सरकार वूमेन पावर लाइन नम्बर 1090 लागू किहे बाय लकिन ई सब खाली देखावा ही साबित होत बाय। दिनो दिन अपराध बढ़तै बाय। सरकार काव कराथै। पीड़िता का मुवावजा दिया थै मुवावजा से उनके आबरू कै कीमत लगावा जाए सका थै। रूपया पैसा तौ बहुत आये अउर जाए लकिन इज्जत एक बार चली जाथै तौ दुबारा वापस नाय आवत। देश मा मेहरारू लड़कियन के आबरू के साथै खिलवाड़ किया जात बाय। सरकार कान मा तेल डाले आंख मूंदे काहे बैठी बाय। ऐसन घिनौना काम करै वाले मनईन का तौ तुरन्त फांसी कै सजा होय का चाही सरकार यहि तरह से कउनौ ठोस कदम कै हक नाय उठावत बाय। पुलिस प्रशासन का सूचना दिया जाथै तौ तुरन्त जाथै। आरोपी का देखी कै भी अनदेखी काहे कैै थै। पुलिस प्रशासन का अउर शसक्त हुवय कै जरूरत बाय।