मारपीट करके टोर दओ हांथ

कन्धी ओर सुन्ता
कन्धी ओर सुन्ता

महोबा शहर, मोहल्ला फतेहपुर बजरिया। एते 2 दिसम्बर 2013 खा रात 9 बजे कंधी ओर ऊखे परिवार खा निम्मू, कल्लू ओर गद्यान ने मारो हे। जीसे कन्धी को हाथ टूट गओ हे। जीखी महोबा कोतवाली में रिपोर्ट लिख के डाक्टरी कराई हे।
कन्धी अहिरवार ने बताओ कि 2 दिसम्बर 2013 खा रात 9 बजे हेमन्त कुशवाहा निम्मू की दुकान में हतो। मोये लड़का राजू ने ऊसे अपने पचास रूपइया मांगे। तभई निम्मू कहन लगो कि ते मोई दुकान में काय आओ हे, ओर गाली देन लगो। राजू ने कहो कि गाली न दे। में रोड में ठाड़ो हों। ऊ नई मानो ओर सब जने मिल के मारन लगे, में बचाउन गओ तो मोये मारो हे। जीसे मोओ हाथ टूट गओ ।
कन्धी की ओरत सुन्ता ने बताओ कि लड़का छूट के आओ तो मोये घर के भीतर घुस के मारो हे। जीसे मोय कपड़ा फट गये हें। निम्मू कहत हतो कि रिपोर्ट लिखाये जेहे, तो जान से मार देबी। जीसे हमने 3 दिसम्बर 2013 खा सुबेरे तहसील दिवस में दरखास दई हे।
निम्मू ने कहो कि राजू हमाई दुकान में आके गाली गलौज करत हतो। में दूसरेन के कमरा में दुकान धरें हों। मोये दुकान के शीशा टूट गये हें। एई से हमने मारो हे।
बजरिया चैकी के एस.आई. ने बताओ कि कन्धी के दरखास तहसील दिवस में आई हती। जीसे हमें ऊखी दरखास मिल गई हे। ऊ केस की जांच चलत हे।