महंगाई बढ़ती गई पर नहीं बढ़ा पैसा

women

जिला चित्रकूट। चित्रकूट जिल उत्तर प्रदेश के चित्रकूट जिले की आशा कार्यकर्ता अब अपना वेतन बढ़वाने के लिए लखनऊ में धरना देंगी। 11 अक्टूबर 2013 को जिले के पांचों ब्लाकों की सभी ग्राम पंचायतों की आशा कार्यकर्ताओं ने कर्वी में धरना कर यहां के एस.डी.एम. अभयराज को मांग पत्र सौंपा था। लेकिन अब तक कोई सुनवाई नहीं हुई है। उनका कहना है कि महंगाई लगातार बढ़ रही पर पैसा एक बार भी नहीं बढ़ा। अब वो लोग अपनी मांग को लेकर लखनऊ जाएंगी।
ब्लाक मऊ, गांव बोझ अखारी पुरवा। यहां की मुन्नी देवी पांच साल से आशा कार्यकत्र्ता हैं। बच्चा पैदा कराने के लिये गर्भवती महिलाओं को लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र जाती हैं। इसमें उन्हें कुल दो सौ रुपए मिलता है। उनका कहना है कि काम के हिसाब से पैसा बहुत कम है। मानिकपुर ब्लाक में कुल एक सौ छत्तीस आशा कार्यकर्ता हैं। गांव ऐलहा का पुरवा गुरौला में वन्दना पाण्डेय और खिचड़ी गांव की गायत्री दो साल से आशा कार्यकर्ता हैं। गर्भवती औरत के साथ सारा दिन भूखे प्यासे बैठे रहना पड़ता है। कई बार बाहर से खरीद कर कुछ खाना भी पड़ता है। आज की महंगाई को देखते हुए दो सौ रुपया कुछ भी नहीं हैं। ब्लाक कर्वी गांव खोह यहां मेड़िया दस साल से आशा कार्यकर्ता है। उसका कहना है अपनी तरफ से गर्भवती महिलाओं को किराया लगाकर लेकर जाती हूं। क्या होता है दो सौ रुपए में? शिवरामपुर प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के पर्यवेक्षक सोहनलाल का कहना है कि सरकार आदेश देगी तभी आश कार्यकर्ताओं का पैसा बढ़ेगा, यह काम सरकार का है।