मड़़ई पानी खातिर हलाकान

Chitrakoot - Agrahana Handpumpचित्रकूट जिला के गांवन मा कत्तौ हैण्डपम्प नहीं लाग तौ कत्तौ हैण्डपम्प के चरही टूट हवै। यहिसे मड़इन का पानी के समस्या से जूझै का परत हवै।

ब्लाक मानिकपुर, गांव अगरहुण्ड़़ा। हिंया के मुन्ना अउर रानी का कहब हवै कि हैण्डपम्प के चरही टूट हवै। यहिसे हैण्डपम्प के अइत कइत गंदा पानी भरा रहत हवै। गंदे पानी से बदबू आवत हवै पै मजबूरी मा हैण्डपम्प से पानी भरत हवैं। हैण्डपम्प के चरही बनवावैं खातिर प्रधान शिवकलिया से 1 जुलाई का कहा गा। वा अबै तक हैण्डपम्प के चरही नहीं बनवाइस हवै।

प्रधान शिवकलिया के लड़का का कहब हवै कि 7 जुलाई का मानिकपुर ब्लाक मा लिखित दीने हौं। एक हफ्ता के भीतर हैण्डपम्प के चरही बनवा दीन जई।

मानिकपुर बी. डी. ओ. राधेश्याम वर्मा का कहब हवै कि लिखित मिली रहै। हैण्डपम्प के चरही बनवावैं खातिर प्रधान से कहा जई।