मड़इन का आरोप – नहीं मिलै पंजीरी

kheptihaजिला चित्रकूट, ब्लाक मऊ, गांव खप्टिहा। हिंया के मड़इन का आरोप हवै कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ता कृष्णा देवी एक साल से बच्चन का पंजीरी नहीं बांटत हवै। यहिके लिखित दरखास अबै तक कत्तौ नहीं दीन ग।
गांव के द्वारिका प्रसाद अउर कौशिल्या का कहब हवै कि हमरे बच्चा केन्द्र जात हवंै तौ आंगनबाड़ी कार्यकर्ता पंजीरी नहीं बांटत हवै। यहै से बच्चा केन्द्र जाये का नहीं तैयार होत हवंै। यहिनतान धात्री, गर्भवती अउर किशोरिन का भी पंजीरी नहीं मिलत आय। का फायदा इनतान के आंगनबाड़ी केन्द्र होय से जउन कि बच्चन का पोषाहार भी न मिलै।
आंगनबाड़ी कार्यकर्ता कृष्णा देवी का कहब हवै कि मैं केन्द्र मा बच्चन का रोजैं पंजीरी बांटत हांै। गर्भवती, धात्री अउर किशोरिन का हर शनिवार का पंजीरी देत हौं। केन्द्र मा कुल तीस बच्चा हवैं। पांच धात्री, पन्द्रह गर्भवती अउर आठ किशोरी हवैं। सुपर वाइजर सावित्री का कहब हवै कि अगर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता पंजीरी नहीं बांटत हवै तौ गांव मा जा के जांच की जई।