मंण्डी मे नइयां कोनऊ सुविधा

बीस साल होंय के बाद भटकत
बीस साल होंय के बाद भटकत

जिला महोबा, ब्लाक जैतपुर, कस्बा बेलाताल गल्ला मण्डी ई मण्डी खा बने बीसो साल हो गये हे, पे किसानन खा आज भी टट्टी पेशाब ओर पानी के लाने एते ओते भटकने परत हे।
मुढ़ारी गांव को दद्दू कहत हे की शनिवार ओर बुधवार खा बाजार सब्जी बेंचन आउत हे। हमें पानी पीये खा पांच सौ मीटर दूर जाने परत हे। ग्राहक दूसरी दुकान से सामान खरीद लेत हे।
रजौनी गांव की आशारानी बताउत हे की हम आठ दिन मे बाजार आउत हे। एते दो हैण्डपम्प बिगरे परे हें। उमा बताउत हे की तीन साल से सब्जी की दुकान लगाउत हे। एते तीन साल से ही पानी की सुविधा हे। पानकुंवर कहत हे की मंण्डी मे शौचालय की सुविधा नइयां। आदमी दीवार फांद के टट्टी के लाने निकर जात हे। पार्वती कहत हे की मे सात साल से पठा गांव से मसाला बेचे बाजार आउत हों। एते जोन शौचालय बने हें ऊ टूट परे हे। सावित्री बताउत हे की एते के शौचालय टूटे होंय के कारन ओरतन खा बोहतई परेशानी होत हे। आदमी तो कहूं भी ठाड़ होके पेशाब कर लेत हे। पे हम ओरत जने एते ओते फिरत रहत हे।
जैतपुर कृषि मण्डी सहायक रिषीराज बताउत हे की तीन महीना पेहले प्रस्ताव बना के लखनऊ भेज दओ हतो। अब जभे ओते से ठेकेदार ठेका लेहे तभई बनहे। अभे बजट पास हो गओ हे तो एक महीना के भीतर ही सी.सी रोड, पानी ओर शौचालय की सुविधा करी जेहे। जीसे आदमियन खा परेशानी न हो हे।

रिपोर्टर – श्यामकली