भारतीय क्रिकेट का बेहतरीन दौर

(फोटो साभार - विकिपीडिया )
(फोटो साभार – विकिपीडिया )

कोच्ची, केरल। पिछली कुछ प्रतियोगिताओं में भारतीय क्रिकेट टीम में बल्लेबाज़ों ने बेहतरीन प्रदर्शन किया और हर मैच में भारत को जिताया। इस बार 21 नवंबर को कोच्ची शहर में भारत के गेंदबाज़ भी पीछे नहीं रहे। नतीजा – भारत की टीम के लिए एक और बड़ी जीत।
वेस्ट इंडीज़ को पांच दिवसीय क्रिकेट प्रतियोगिता के तीनों मैचों में हराने के बाद, अब वेस्ट इंडीज़ को पचास ओवर के एक दिवसीय मैच में भी हार झेलनी पड़ी। अश्विन, रविंद्र जडेजा और सुरेश रैना ने एक के बाद एक विकेट लेकर वेस्ट इंडीज़ को दो सौ ग्यारह रनों में आल आउट कर दिया।
एक और यादगार पारी खेली विराट कोहली ने जब उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पांच हज़ार रन सबसे तेज़ी से बनाने का रिकार्ड तोड़ा। यह रिकार्ड इसके पहले वेस्ट इंडीज़ के ही विव रिचर्डस ने साल 1987 में बनाया था। कोहली ने मैच में केवल चैरासी गेंदों में छियासी रन बनाए और उनको ‘मैन आफ द मैच’ भी घोषित किया गया।
इस प्रतियोगिता का तीसरा और आखिरी मैच उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर में 27 नवंबर को खेला जाएगा। क्रिकेट प्रमियों को पूरी उम्मीद है कि इस भारतीय टीम को तीनों मैचों में जीत ही हासिल होगी।