भवन पुस्तकालय, काम सामाजिक हई

पुस्तकालय भवन
पुस्तकालय भवन

जिला सीतामढ़ी, प्रखण्ड रीगा, पंचायत सिरौली द्वितिय, गांव रामनगरा, वार्ड नम्बर पांच। उहां लवली आनंद के माध्यम से पुस्तकालय भवन बनलई कि पंचायत में पढ़ेला पुस्तक मिलतई। मगर उ समाजिक काम में उपयोग होई छई।
उहां के लोग रामबालक सिंह, सुगिया देवी, निर्मला देवी लगभग दस लोग कहलथिन कि पंचायत में पुस्तकालय भवन बनलई कि गांव में लोग के पढ़ेला किताब मिलतई ओई में एगो आदमी रहतई। लेकिन पुस्तकालय भवन नाम ला बनल हई, काम कोनो न हई। जब से भवन बनलई तब से कभी न हमरा सब के कोई पत्रिका, पुस्तक कहां मिलल? नाम पुस्तकालय समुदायिक भवन के होई छई।
मुखिया विश्वनाथ भगत कहलथिन कि उ जमीन पुस्तकालय भवन के नाम से रजिस्ट्री अउर लवली आनंद के माध्यम से होयल हई। मुखिया कहलथिन कि हम मुखिया के फण्ड से भवन के मरम्मती, चार दिवारी, गेट अउर चापाकल लगईलीय। हमर उम्मीद हई कि पुस्तकालय भवन में पुस्तक से संबंधि काम हो, मगर कहां होई छई। इ भवन सामाजिक काम में उपयोग हो रहल हई।
प्रखण्ड विकास पदाधिकारी राजाराम पासवान कहलथिन कि हमर कोशिश हई कि पुस्तकालय भवन पुस्तक के लेल काम कयल जाय के चाही। ताकि गांव के लोग के पढ़े के लेल पुस्तक मिले।