बढ़त धूप, डायरिया ने फैलाओ पांव

dayriya bimari khabar taja se (1) copyमहोबा जिला मे धूप ओर गर्मी के कारन अस्पतालन में सुबेरे से मरीजन की लाइन लगत हे। ईखे लाने स्वाथ्य विभाग भी कोनऊ ध्यान नई देत हे। जीसे ई बिमारी से आदमी बच सके। जिला अस्पताल मे पूरे बिस्तर भरे हे।
चुरबरा गांव की कौशिल्या बताउत हे की लड़का डेढ़ साल को हे। छह दिन से भर्ती हे। उल्दी दस्त लगत हते। उल्टी में आराम हे पे दस्त मे कछू आराम नइयां।
अलीपुरा गांव की मीरा बताउत हे की 12 मई से भर्ती हे, नौ महीना की लड़की हे। कमजोर होंय पे डाक्टर ने सीरप दओ हे। पेहले जुखाम खांसी ओर बुखार आउत हती। ऊखे बाद चेचक के दाना निकर आये हे। डाक्टर कहत हे की अभे भर्ती रहने परहे। दिन मे दो दइयां डाक्टर देखन आउत हे। बच्चन के खाये खा खिचड़ी ओर दाल रोटी मिलत हे। हम अपने खाये खा बाहर होटल से मगांउत हे। बड़ी बिटिया पियूस चार साल की हे। ऊखे भी पेहले बुखार खांसी आउत हती, फिर चेचक के दाना निकर आये हते।
dayriya bimari khabar taja se (2) copyमहोबा यशोदा नगर की सुनीता कहत हे की चौदह महीना का हे, तनुज खा उल्टी दस्त लगत हते, 15 मई से भर्ती हे। पेहले दो दिन मिश्रा डाक्टर के घर में दिखाओ हतो। जभे आराम नईं लगो तो डाक्टर ने अस्पताल मे भर्ती होंय खा कहो हतो। महोबा जिला अस्पताल के सी.एम.एस. डाक्टर उदयवीर सिंह कहत हे की गर्मी ओर धूप के कारन उल्टी दस्त वाले मरीज ज्यादा आउत हे। आदमी खाये पिये को ध्यान नई देत हे। बाजार मे धूप के कटे फल ओर बासा खाना खात हे। दिन भर धूप मे फिरत हे। एई सबसे ज्यादा नुक्सान करत हे। जोन ज्यादा सारियस होत हे तो भर्ती कर जात हे। नई दवाई देके घरे भेज दओ जात हे।

रिपोर्टर – सुनीता प्रजापति