बेगैर जाल के धरा ट्रांस्फारमर

बिना जाल के ट्रांस्फारमर
बिना जाल के ट्रांस्फारमर

जिला बांदा, ब्लाक बड़ोखर खुर्द, गांव मटौंध, मोहल्ला चांदन थोक अउर भूरागढ़। चांदन थोक मा लगभग पन्द्रह साल से चबूतरा मा ट्रांस्फारमर धरा है अउर भूरागढ़ का ट्रांस्फारमर बीस दिन से फुंका परा है।
मटौंध कस्बा के चुनबाद, राजू अउर कमलेश कहत है-“हमरे मोहल्ला का ट्रांस्फारमर बहुतै खतरे का है। जउन चबूतरा मा ट्रांस्फारमर धरा है वहिके चारौ कइत से रास्ता है। वा रास्ता से गुजरैं वाले मड़इन का हमेशा करंट मारैं का खतरा बना रहत है। जानवरन का भी बहुतै डर है। छोट-छोट बच्चन का खास कइके ध्यान दें का परत है। आय दिन ट्रांस्फारमर फुलझडि़या जइसे जलत रहत है। अगर चबूतरा के चारौ कइत जाल बंाध दीन जाय तौ आराम होई जाय। जाल बंधावैं खातिर बिजली विभाग मा कइयौ दरकी कहे हन, पै विभाग वाले कउनौ ध्यान नहीं दिहिन आय।”
यहिनतान भूरागढ़ के कमलेश अउर वकार खां कहिन कि उनके गांव मा पचीस के.वी. पावर का ट्रांस्फारमर है वहौ बीस दिन सेफुंका परा है। साथै बिजली के कटौती भी कीन जात है। बिजली न मिल पावैं के कारन पचासन घर के मड़ई अंधेरे मा रहैं का मजबूर है। आम जनता बिजली कटौती अउर ट्रांस्फारमर फुकैं के समस्या मा सुधार करैं खातिर बांदा के बिजली विभाग मा दरखास दिहिन हैं।
बांदा विद्युत वितरण उपखण्ड के बड़े बाबू काशी का कहब है कि जाल के मांग खातिर विभाग मा कउनौ मांग नहीं आई आय। अगर ट्रांस्फारमर फुंका है तौ पहिले फुंके ट्रांस्फारमर का हेंया लावा जई। वहिके बदले नवा ट्रांस्फारमर धरवा दीन जई।