बुन्देलखण्ड के किसान करिन धरना प्रदर्शन

सिटी मजिस्ट्रेट का दें जात ज्ञापन
सिटी मजिस्ट्रेट का दें जात ज्ञापन

27 जनवरी 2014 का बुन्देलखण्ड के लगभग बारह सौ किसान कर्जा से होत मउत अउर किसान के कर्जमाफी का लइके धरना प्रदर्शन करिन। सिटी मजिस्टेªट के जरिया मुख्यमंत्री का ज्ञापन दिहिन। साथै कइयौ संस्था के कार्यकर्ता भी शामिल रहैं। सिटी मजिस्ट्रेट अनिल कुमार भरोसा दिहिन कि उनके दरखास शासन का भेज दीन जई।
लोक हकदारी मोर्चा के संयोजक रामकरण आदर्शी, सदस्य रफीक अहमद अउर मन्नू लाल कहत हैं कि बुन्देलखण्ड के किसानन का जीवन कर्ज के जाल मा उलझत जात है। या समस्या देख के हम किसानन के हित मा ग्यारह मांगन का लइके धरना प्रदर्शन कीन है। धरना मा बांदा, महोबा, हमीरपुर अउर चित्रकूट जिला के किसान शामिल रहैं। हमीरपुर जिला से आई मंदाकिनी, भरतकूप के संतोष, बांधा पुरवा लालू अउर राजकिशोर, जरैला गांव का साधूराम अउर रामसुमन कहत हैं-“हम आपन आन्दोलन लखनऊ तक लई जाब। सूखा अउर बाढ़ के कारन किसान आपन फसल हर साल नहीं लई पावत आय। फसल का समय आवैं मा किसान आपन खेत का दांव मा लगा के बैंक अउर साहूकारन से कर्जा लेत है। पैदावार न होय से समय से कर्ज नहीं चुका पावै। किसान साहूकारन अउर बैंक का कर्जदार होत चला जात है। इनतान मा आय दिन किसान आत्महत्या करैं का मजबूर हैं।”