बिना जाल का ट्रांसफार्मर

tran copyजिला बांदा, ब्लाक तिन्दवारी, कस्बा चिल्ला। दिसंबर 2015 से मेन बजार मा पेशाब घर के बगल से ग्यारह हजार पावर जाय वाली लाइन का 100 के.वी.ए. ट्रांसफार्मर बिना जाल के खुले मा रखा है। जेहिके चपेट मा आ के पन्द्रह हजार रुपिया के कीमत का बकरा मर गा है। यहिके बाद भी बिजली विभाग वाले जाल नहीं लगवावत।
कस्बा के सत्यप्रकाश अउर भदोरिया का कहब है कि एक तौ खुला ट्रांस्फारमर रखा है दूसर बगल से पेशाब घर भी बना है। रात बिरात हर समय लोग पेशाब खातिर जात हैं, तौ करंट का डेर बना रहत है। कइयौ दरकी या ट्रांसफार्मर मा जाल लगवावैं के मांग कीन है, पै विभाग वालेन का पता नहीं अबै कउन से बड़ी घटना का इंतजार है। बिना मुंह के जानवर आय उनके मरैं से बिजली विभाग का, का मतलब है।
पलरा जेई संतोष का कहब है कि ट्रांसफार्मर 6 फुट के ऊंचाई मा रखा है, पै पता नहीं वहिमा जानवर कसत जा के चिपक जात हैं। का झूठ आरोप लगावत हैं।

रिपोर्टर – शिवदेवी